जब सुषमा ने ताई और भाई को मिलवाया

  • जब सुषमा ने ताई और भाई को मिलवाया
You Are HereMadhya Pradesh
Tuesday, February 25, 2014-8:23 PM

उज्जैनी: मध्यप्रदेश की प्रमुख और पौराणिक महत्व की दो नदियों नर्मदा और क्षिप्रा के संगम स्थल उज्जैनी में आज मालवांचल की राजनीति के दो दिग्गज और चिर प्रतिद्वंद्वी राजनेता सुमित्रा महाजन और कैलाश विजयवर्गीय का मिलन भी अनोखे अंदाज में लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने कराया। उज्जैनी में नर्मदा क्षिप्रा सिंहस्थ लिंकपरियोजना के लोकार्पण के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के अलावा नितिन गडकरी और अनंत कुमार ने शिरकत की। एक मौके पर इंदौर से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुमित्रा महाजन तथा इंदौर शहर से वास्ता रखने वाले राज्य के दिग्गज मंत्री कैलाश विजयवर्गीय आमने-सामने आए।

अवसर का लाभ उठाते हुए सुषमा स्वराज ने दोनों प्रतिद्वंद्वी नेताओं के हाथ अपने हाथों में थामकर मिलवाए। मीडिया से जुड़े लोगों की मौजूदगी में स्वराज ने मौके की नजाकत को समझते हुए कहा ताई और भाई के बीच नहीं लड़ाई सुषमा दीदी बीच में आई। स्वराज यहीं नहीं रुकीं और उन्होंने यह तक कह डाला कि नर्मदा और क्षिप्रा का यही वास्तविक मिलन हैं। इस दौरान ताई यानी महाजन और भाई मतलब विजयवर्गीय के साथ स्वराज भी काफी देर तक ठहाके लगाते रहे। दरअसल इंदौर की राजनीति में महाजन और विजयवर्गीय एक-दूसरे के चिर प्रतिद्वंद्वी माने जाते हैं और इनके बीच राजनैतिक पैंतरेबाजी अक्सर चर्चा में बनी रहती है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You