स्वतंत्र भारत में सबसे अधिक निशाने पर रहे हैं मोदी: राजनाथ

  • स्वतंत्र भारत में सबसे अधिक निशाने पर रहे हैं मोदी: राजनाथ
You Are HereNational
Tuesday, February 25, 2014-9:19 PM

नई दिल्ली: भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने 2002 के दंगों को लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचनाओं को खारिज करते हुए आज कहा कि स्वतंत्र भारत में मोदी ऐसे नेता हैं जो सबसे ज्यादा निशाने पर रहे हैं। राजनाथ ने कहा कि मोदी 2002 के दंगों के दौरान लोगों की मौत के आरोपी नहीं हैं और इस संबंध में आरोपों से उन्हें बहुत मानसिक पीड़ा पहुंची होगी।

मोदी पर एक पुस्तक का विमोचन करते हुए राजनाथ ने कहा, ‘‘स्वतंत्र भारत में अगर किसी नेता पर सबसे ज्यादा निशाना साधा गया है तो उनका नाम नरेंद्र मोदी है। उनके खिलाफ हर तरह के आरोप लगाये गए हैं।’’ मोदी के खिलाफ कुछ आरोपों का जिक्र करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘आरोप लगाया गया कि उन्होंने कहा था कि 24 घंटे में जितनी गोली चला सकें, चलाएं और जितने अधिक लोगों को मार सकते हैं मार दें। मैं मुख्यमंत्री रहा हूं और विश्वास के साथ कह सकता हूं कि कोई मुख्यमंत्री अपनी देखरेख में इस तरह के अराजकता जैसे हालात नहीं पैदा होने देना चाहता।’’

राजनाथ सिंह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। विमोचन समारोह में विदेशी राजनयिक समेत अनेक लोगों ने शिरकत की। इस मौके पर राजनाथ ने कहा, ‘‘आप कल्पना कर सकते हैं कि उन्होंने कितनी मानसिक पीड़ा और दबाव सहा होगा।’’ दंगों के मुद्दे पर मोदी का बचाव करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारत में हजारों दंगे हुए हैं। उन्होंने गुजरात में 2002 से पहले भड़के सांप्रदायिक दंगों और कांग्रेस के शासन में असम में भड़की हिंसा का भी उल्लेख किया।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You