एक चौथाई दिल्ली में छाएगा अंधेरा

  • एक चौथाई दिल्ली में छाएगा अंधेरा
You Are HereNcr
Wednesday, February 26, 2014-1:51 AM
नई दिल्ली,(रोहित राय): दिल्ली में अभी गर्मी ने दस्तक भी नहीं दी है और दिल्लीवासियों के समक्ष बिजली संकट पैदा हो गया है। बिजली के फीडर पिलर और ट्रांसफार्मरों की मरम्मत के चलते अगले 2 दिन एक चौथाई दिल्ली में बिजली कटौती की जाएगी।
 
दिल्ली ट्रांस्को लिमिटेड (डी.टी.एल.) ने कटौती किए जाने वाले इलाकों की बाकायदा सूची भी जारी की है। पूर्वी, बाहरी, मध्य और दक्षिण दिल्ली के दर्जनों इलाकों में बुधवार और वीरवार को 4 से 7 घंटे तक की बिजली कटौती की जाएगी, जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। डी.टी.एल. के मुताबिक अगले 2 दिन के भीतर बिजली के ट्रांसफार्मरों, तारों, फीडर पिलर, बिजली सब-स्टेशन सहित तमाम महत्वपूर्ण बिजली के उपकरणों की मरम्मत की जानी है। 
 
राजधानी में बिजली सप्लाई करने वाली तीनों निजी बिजली कंपनियों बी.एस.ई.एस. राजधानी पॉवर लिमिटेड (बी.आर.पी.एल.), बी.एस.ई.एस. यमुना पॉवर लिमिटेड (बी.वाई.पी.एल.) और नॉर्थ दिल्ली पॉवर लिमिटेड (एन.डी.पी.एल.) के खातों की जांच इन दिनों कैग से कराई जा रही है, जिसे लेकर कंपनियों में हड़कंप मचा हुआ है। कैग से जांच न हों, इसके लिए बी.एस.ई.एस. की दोनों कंपनियों ने पिछले दिनों दिल्ली में बनी आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार पर दबाव बनाने के लिए पैसे की कमी बताकर दिल्ली में भविष्य में बिजली सप्लाई नहीं करने की बात कही थी और हाथ खड़े कर दिए थे। 
 
इसके बाद से ही राजधानी के दर्जनों इलाकों में लगातार कटौती करने का सिलसिला शुरू हुआ पड़ा है जो मार्च तक जारी रह सकता है। कटौती का कारण चाहे जो भी हों लेकिन इसका खामियाजा दिल्ली की जनता भुगत रही है। उधर एक तिहाई दिल्ली में बिजली सप्लाई करने वाली प्रमुख निजी बिजली कंपनी बी.एस.ई.एस. के प्रवक्ता सी.पी. कामत ने बिजली कटौती किए जाने का कारण बिजली के ट्रांसफार्मरों, तारों और बिजली के बक्सों की मरम्मत होना बताया है ।
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You