नौसेना प्रमुख एडमिरल डीके जोशी का इस्तीफा

  • नौसेना प्रमुख एडमिरल डीके जोशी का इस्तीफा
You Are HereNational
Wednesday, February 26, 2014-7:53 PM

नई दिल्ली: नौसेना की एक और पनडुब्बी में आज सुबह हादसे होने के बाद तेजी से चले घटनाक्रम में नौसेना प्रमुख एडमिरल डी.के. जोशी ने नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

रक्षा मंत्रालय ने एक आधिकारिक बयान में एडमिरल जोशी के इस्तीफे की पुष्टि करते हुए कहा कि उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है और नियमित प्रमुख की नियुक्ति होने तक नौसेना उप प्रमुख वाइस एडमिरल राबिन के. धवन से उनका कामकाज संभालने के लिए कहा गया है।

एडमिरल जोशी ने 31 अगस्त 2012 को नौसेना प्रमुख का पदभार संभाला था और पिछले कुछ महीने नौसेना में कुछ बड़ी तो कुछ छोटी दुर्घटनाओं की खबरें लगातार आ रही थीं। इस बीच नौसेना के कुछ अधिकारियों के संबंध में कुछ पारिवारिक तो कुछ नैतिक मामलों की खबरों भी आ रही थीं।

रक्षा मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, ‘‘पिछले कुछ महीनों के दौरान हुई दुर्घटनाओं और अन्य घटनाओं की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए नौसेना प्रमुख एडमिरल डी.के. जोशी ने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया।’’

बयान में कहा गया, ‘‘सरकार ने तत्काल प्रभाव से उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। नौसेना की पनडुब्बी आईएनएस सिंधुरक्षक के 13 एवं 14 अगस्त की रात विस्फोट के बाद आग लगने से डूबने की घटना के बाद कई हादसे सामने आते रहे थे और नौसेना उनकी सफाइयां देते हुए परेशान थी।आज सिंधुरत्न पनडुब्बी में आग लगने और उसमें दो अधिकारियों के लापता होने के अलावा सात नौसैनिकों के बेहोश होने की खबर से यह दबाव चरम पर पहुंच गया और नौसेना प्रमुख ने इस्तीफा देने का कदम उठा लिया।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You