रामविलास पासवान पर पिल पड़े कांग्रेस व राजद

  • रामविलास पासवान पर पिल पड़े कांग्रेस व राजद
You Are HereBihar
Friday, February 28, 2014-7:50 PM

पटना: कांग्रेस और राजद ने 2002 के दंगों को लेकर नरेंद्र मोदी के खिलाफ तीखे बयानों को भूलकर भाजपा से हाथ मिलाने के लिए आज लोजपा नेता रामविलास पासवान पर जमकर हमला बोला। बिहार कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी ने एक बयान में कहा कि इससे दलित नेता की ‘‘अवसरवादी’’ सोच प्रदर्शित होती है और उन्होंने ‘‘अपने परिवार के हितों के लिए सिद्धांतों की बलि दे दी।’’ खुद भी कमजोर तबके से संबंध रखने वाले चौधरी ने कहा, ‘‘उन्होंने न सिर्फ अपनी विश्वसनीयता खो दी है बल्कि यह साबित भी कर दिया है कि उनके लिए सिद्धांतों और दलित समाज के कल्याण के लिए प्रतिबद्धता की अपेक्षा परिवार का हित ज्यादा अहम है।’’

चौधरी ने कहा कि पासवान ने अटल बिहारी वाजपेयी की भाजपा सरकार से 2002 में गोधरा दंगों के नाम पर इस्तीफा दे दिया था और उसके बाद से वह लगातार नरेंद्र मोदी को सांप्रदायिक बताकर आलोचना करते रहे थे। ‘‘ लेकिन आज उन्होंने उसी भाजपा और नरेंद्र मोदी के साथ गठबंधन का फैसला किया है।’’ राजद महासचिव रामकृपाल यादव ने कहा कि पासवान को लोगों को यह बताना होगा कि वह किस प्रकार भाजपा के साथ हो गए जिसने नीतीश कुमार के साथ मिलकर उनकी :पासवान की: जाति को बिहार में महादलित की सूची से बाहर रखा।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You