जीएम फसलों पर ‘आप’ ने साधा सरकार पर निशाना

  • जीएम फसलों पर ‘आप’ ने साधा सरकार पर निशाना
You Are HereNational
Saturday, March 01, 2014-12:38 AM
नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी ने अनुवांशिक तौर पर संशोधित (जीएम) फसलों के फील्ड ट्रायल की इजाजत देने पर शुक्रवार को संप्रग सरकार को आड़े हाथ लिया। पार्टी ने कहा कि कृषि पर संसदीय स्थायी समिति द्वारा ऐसे ट्रायलों का विरोध करने के बावजूद सरकार ने यह फैसला किया । 
 
पार्टी की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया कि आम आदमी पार्टी जीएम फसलों के फील्ड ट्रायल को मंजूरी देने और देश को जोखिम भरे जीएम फसलों की प्रयोगशाला बनाने के पर्यावरण मंत्री वीरप्पा मोइली के फैसले की निंदा करती है और मांग करती है कि सभी फील्ड ट्रायलों पर रोक लगायी जाए और मंत्री द्वारा जल्दबाजी में की गयी इस कार्रवाई की जांच शुरू करायी जाए। 
 
बयान के मुताबिक, ‘यह स्वीकार्य नहीं है कि मोइली ने इस तथ्य के बावजूद इन फील्ड ट्रायलों की मंजूरी दी जब कृषि पर एक संसदीय स्थायी समिति, जिसमें कांग्रेस पार्टी और संप्रग के अन्य घटक दलों सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के सांसद बतौर सदस्य शामिल होते हैं, ने ऐसे फील्ड ट्रायलों के खिलाफ अपनी सिफारिशें दी थी। ‘आप’ ने इस मुद्दे पर सरकार द्वारा दिखायी गयी जल्दबाजी पर भी सवाल उठाए। बयान में कहा गया कि उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त तकनीकी विशेषज्ञ समिति (टीईसी), जिसमें प्रख्यात वैज्ञानिकों को शामिल किया गया।
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You