नीतीश की अपील, अधिकार की इस लड़ाई को आखिरी दम तक लड़ें

  • नीतीश की अपील, अधिकार की इस लड़ाई को आखिरी दम तक लड़ें
You Are HereNational
Sunday, March 02, 2014-9:46 PM

पटना: सीमांध्र की तरह बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर आज आयोजित जदयू की आम हड़ताल के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य की जनता से अपने अधिकार की इस लड़ाई को आखिरी दम तक लडऩे की अपील करते हुए कहा कि यह अब हमारी अस्मिता और स्वाभिमान से जुड़ गया है।

पटना शहर के एक अणे मार्ग स्थित अपने आवास से सुबह 11 बजे पैदल मार्च करते हुए 12 बजे ऐतिहासिक गांधी मैदान पहुंचे नीतीश शाम करीब साढ़े पांच बजे तक बापू की मूर्ति के समीप सत्याग्रह पर बैठे रहे। गांधी मैदान में सत्याग्रह पर बैठने के दौरान नीतीश ने कहा कि वह बिहार के हक की लड़ाई लड़ रहे हैं, कुर्सी के लिये नहीं। उन्होंने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने के लिए यह अभियान वह इस राज्य के लोगों की तरफ से चला रहे हैं और उनके अभियान को दिशा दे रहे हैं।

नीतीश ने कहा कि यह केवल उनकी पार्टी जदयू का अभियान नहीं था और इसके लिए अबतक जदयू द्वार किए गए प्रयास के लिए वह उसके शुक्रगुजार हैं क्योंकि अन्य दलों ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने इसे एक जन आंदोलन बताते हुए कहा कि यह जन आकांक्षा है कि बिहार भी आगे बढ़े और इसका एक माध्यम बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना हो सकता है।

नीतीश ने कहा कि हमें भी विकास का अधिकार है और हमें विश्वास है कि हम अपने इस संकल्प में सफल होंगे क्योंकि यह अब हमारे अस्मिता और स्वाभिमान से जुड़ गया है। उन्होंने कहा कि इस तरह की उपेक्षा और भेदभाव को हम बर्दाश्त नहीं कर सकते इसलिए सरकार में रहते हुए और मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए उनका दायित्व था कि लोगों की जो भावना है उसे जुबान और वाणी दें और उसे प्रकट करने का माध्यम दें ताकि वे अपने भाव को प्रकट कर सकें।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You