कंपनी के अधिकारियोंं से मिली पुलिस

  • कंपनी के अधिकारियोंं से मिली पुलिस
You Are HereNcr
Monday, March 03, 2014-1:16 AM

नई दिल्ली: प्रसाद नगर के पूसा रोड इलाके में दिन-दिहाड़े 7 लाख 86 हजार रुपए की लूट में पुलिस के हाथ खाली हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि लुटेरों ने एक योजनाबद्ध तरीके से वारदात को अंजाम दिया है। 

हाल ही में करोलबाग और प्रसाद नगर इलाके में हुई लूट की वारदातों में पकड़े गए आरोपियों से पुलिस की टीम जल्द पूछताछ कर सकती है। उनका कहना है कि वारदात के पास कोई सी.सी.टी.वी.कैमरा नहीं लगा था लेकिन उस रूट पर लगे सी.सी.टी.वी. कैमरों की फूटेज देखी गई हैं, जिसमें आरोपियों की गतिविधि सामने नहीं आ रही है।

उनका कहना है कि कंपनी के कर्मचारी पीड़ित राकेश और गौतम के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल को भी खंगाला गया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि लूट के काफी मामलें ऐसे आए हैं, जिसमें पीड़ित ही मुख्य आरोपी सामने आते हैं। इसी शक के आधार पर दोनों की फोन कॉल डिटेल को खंगाला गया है लेकिन अभी तक कुछ सामने नहीं आ रहा है। 

 कंपनी के अधिकारियों से पूछताछ क र यह जानने की कोशिश की जा रही है कि कंपनी में हाल फिलहाल किस-किस ने नौकरी छोड़ी है या फिर किस कर्मचारी का कंपनी से किसी बात को लेकर विवाद चल रहा है।  पुलिस का कहना है कि वारदात के पीछे कोई जानकार शख्स की होना चाहिए, जिसको जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
 
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस तरह की कंपनियों को पुलिस की तरफ से समय-समय पर एडवाइजरी जारी की जाती है कि वे पैसों को बाजार से उठाने और जमा करवाने के वक्त 2 बंदूकधारी गार्ड हमेशा साथ रखा करें। इससे पैसा और कर्मचारी सुरक्षित रहे लेकिन कंपनियां एडवाइजरी को गंभीरता से नहीं लेती है, जिसके कारण इनके कर्मचारियों के साथ लूट होने की बात कई बार सामने आ चुकी हैै। 
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You