‘मोदी का आर्थिक विचार संप्रग नकल’

  • ‘मोदी का आर्थिक विचार संप्रग नकल’
You Are HereNational
Tuesday, March 04, 2014-8:12 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री पद के लिए भाजपा उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए वाणिज्य मंत्री आनंद शर्मा ने आज कहा कि उनका आर्थिक विचार कुछ और नहीं बल्कि ‘राजनीतिक नकल’ है। उन्होंने कहा कि मोदी ने अपने आर्थिक दृष्टिकोष्ण में कुछ भी नया नहीं बताया और केवल संप्रग सरकार की उपलब्धियों को नये रूप में रखा है। शर्मा ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मोदी द्वारा जिस विचार का दावा किया जा रहा है, वह राजनीतिक नकल है।’’ मंत्री ने यह भी कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री का गतिशील गुजरात शिखर सम्मेलन के दौरान निवेश आंकड़ों के बारे में दावा काफी बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया। उन्होंने कहा कि शिखर सम्मेलन में जताई गई प्रतिबद्धता के अनुसार अगर कोई निवेश बढ़ाता है तो पूरे देश में निवेश प्रवाह कई गुना बढ़ जाएगा।

रिजर्व बैंक के आंकड़े का हवाला देते हुए शर्मा ने कहा कि गुजरात को अप्रैल 2000 से दिसंबर 2013 के बीच केवल 9 अरब डालर का एफडीआई (प्रत्यक्ष विदेशी निवेश) मिला। महाराष्ट्र को इस अवधि में सर्वाधिक 65 अरब डालर का एफडीआई मिला। उसके बाद नयी दिल्ली (38.8 अरब डालर) तथा चेन्नई (12.6 अरब डालर) का स्थान रहा। उन्होंने कहा कि गुजरात ने 2011 में शिखर सम्मेलन के दौरान दावा किया था कि राज्य ने 450 अरब डालर के 7,936 सहमति पत्र पर दस्तखत किया। इससे पूर्व शिखर सम्मेलन में भी मोदी ने अरबों डालर के एफडीआई प्रस्तावों का दावा किया था। उन्होंने कहा, ‘‘अगर इन आंकड़ों को जोड़ा जाए तो यह भारत के कुल एफडीआई का कम-से-कम 5 या छह गुना है। भारत को अबतक 296 अरब डालर का एफडीआई मिला है।’’
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You