अमरनाथ यात्रा का पंजीकरण न होने पर श्रद्धालुओं में गुस्सा

  • अमरनाथ यात्रा का पंजीकरण न होने पर श्रद्धालुओं में गुस्सा
You Are HereNational
Thursday, March 06, 2014-6:04 PM

ऊना: जिला से अमरनाथ यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं का पंजीकरण न होने से लोगों में तनाव बढ़ता जा रहा है। यात्रा के लिए पंजीकरण एक मार्च को शुरु हो चुका है जो केवल 44 दिनों तक ही किया जाएगा। इससे भी अधिक मुश्किल यह है कि प्रति दिन केवल 20 श्रद्धालुओं का पंजीकरण ही किया जा सकता है लेकिन 5 दिन बीत जाने पर एक भी पंजीकरण न होने से अमरनाथ श्रद्धालुओं में काफी तनाव है।

उन्होंने सरकार और प्रशासन पर इस मामले से मूंह मोडऩे का आरोप लगाते हुए कहा कि यात्रा पंजीकरण शुरु न किए जाने से उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंच रही है। जिला से हर साल अमरनाथ जाने वाले श्रद्धालुओं में अंकुर शर्मा, नरेश कुमार, शिव कुमार, राजेश, राजन, रणजीत सिंह, सुनील ठाकुर, सुरेश कुमार, अजय शर्मा, विनोद कुमार, राजेंद्र प्रसाद और शंकर दास ने बताया कि अमरनाथ यात्रा के लिए पंजाब नेशनल बैंक में रजिस्ट्रेशन की जाती है। लेकिन इस बार रजिस्ट्रेशन न होने से उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

यात्रा पंजीकरण के लिए श्रद्धालुओं को मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाकर बैंक में फीस जमा करवानी होती है जिसके बाद उन्हें यात्रा के लिए पास मिल जाता है। अमरनाथ श्राइन बोर्ड के नियमों के मुताबिक ऊना में केवल एक ही बैंक ब्रांच को अधिकृत किया गया है, जिसमें प्रति दिन केवल 20 यात्रियों का ही पंजीकरण किया जाता है जिनमें से 10 यात्रियों को बालटाल के रास्ते और 10 को पहलगांव के रास्ते भेजा जाएगा। यह प्रक्रिया केवल 44 दिनों के लिए ही है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You