आचार संहिता तोड़ी तो बख्शे नहीं जाएंगे

  • आचार संहिता तोड़ी तो बख्शे नहीं जाएंगे
You Are HereNational
Thursday, March 06, 2014-3:33 PM

जम्मू कश्मीर: आगामी लोकसभा चुनाव की तिथि घोषित होने के बाद जिला उपायुक्त कार्यालय से सटे कांफ्रेंस हाल में तमाम जिला अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई गई। इस बैठक में प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा विभिन्न सरकारी विभागों के जिला अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में प्रशासनिक अधिकारियों को कड़े संज्ञान की चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अब वह सीधा चुनाव आयोग के अधीन हैं। इस चेतावनी में चुने हुए नुमाइंदे और एनजीओ के सदस्य सरकारी इमारत का उद्घाटन नहीं कर सकेंगे।

अधिकारियों सहित ड्यूटी स्टाफ सदस्यों को चौबीस घंटे मोबाइल फोन आन रखने होंगे। कोई भी अधिकारी को बिना लिखित अनुमति के अवकाश नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि अगर नियम कायदों की अवहेलना होती है, तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ  कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You