मोदी और जोशी के समर्थक आमने-सामने

  • मोदी और जोशी के समर्थक आमने-सामने
You Are HereUttar Pradesh
Thursday, March 06, 2014-5:08 PM

वाराणसी: भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की वाराणसी से उम्मीदवारी की खबर को लेकर उनके और सांसद मुरली मनोहर जोशी के समर्थकों के बीच काफी गहमा-गहमी होने की खबर है। गौरतलब है कि पार्टी चाहती है कि मोदी वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ें। लेकिन मुरली मनोहर जोशी, मोदी के लिए किसी भी कीमत पर अपनी सीट छोडऩे के लिए तैयार नहीं हैं। इस कारण पार्टी में अंदरूनी कलह बढ़ती जा रही है। वाराणसी की गलियों और चौराहों पर जोशी के बधाई पोस्टरों ने एक नए विवाद को जन्म दे दिया है।

पोस्टर पर जोशी ने अपने समर्थकों को होली की बधाई दी है और उसके साथ लिखा हुआ है, ‘‘बोले काशी विश्वनाथ, डॉ. जोशी का देंगे साथ’’। इस स्लोगन ने मोदी और जोशी के कार्यकर्ताओं को आमने-सामने खड़ा कर दिया है। जोशी के समर्थकों का कहना है कि जनता उनका साथ देगी। वहीं मोदी समर्थक उनकी लहर का गुणगान करते हुए नहीं थक रहे हैं। इस बात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि पार्टी में सबकुछ सही नहीं चल रहा है।

महानगर के मीडिया प्रभारी तिलक राज का कहना है कि ‘मोदी जी की लहर है, जोशी जी बुजुर्ग नेता हैं उन्हें तो खुद ही ये सीट छोड़ देनी चाहिए।’ वहीं जोशी समर्थक उन्हें वरिष्ठ नेता बताकर उनका साथ देने की पूरी तैयारी कर चुके हैं। भाजपा नेता अशोक पांडेय ने कहा है कि ‘जोशी जी ने इस शहर के लिए बहुत कुछ किया है और उन्हें चुनाव लडऩा चाहिए।’वाराणसी की लोकसभा सीट इस बार बीजेपी के लिए खास मुद्दा है। पार्टी को उम्मीद है कि अगर मोदी यहां से चुनाव लड़ते हैं तो इससे यूपी-बिहार की सीटों पर उसे काफी फायदा हो सकता है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You