घर ही नहीं देश भी चला सकती हैं महिलाएं

  • घर ही नहीं देश भी चला सकती हैं महिलाएं
You Are HereNcr
Sunday, March 09, 2014-12:22 AM

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी द्वारा शनिवार को जंतर-मंतर पर महिला दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। महिलाओं के बारे में बोलते हुए विधायक वंदना ने कहा जब महिलाएं 4 हजार रुपए में घर चला सकती हैं, 8 हजार रुपए में घर चला सकती हैं, 40 हजार और 4 लाख में भी घर को मैनेज कर सकती हैं तो फिर वह देश क्यों नहीं चला सकतीं। 

उन्होंने कहा कि अब महिलाओं को घर में खाना बनाने, बच्चे बनाने ओर चारदीवारी में ही सिमटकर नहीं रहना है बल्कि अब घर से बाहर निकला है और जितनी भूमिका देश को चलाने में पुरुष निभा रहे हैं, उतनी ही भूमिका अब महिलाओं को भी देश को अपना योगदान देने की जरूरत है। शाजिया इल्मी ने कहा कि अब समय आ गया है कि महिलाएं घर से बाहर निकलें और समाज में अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि जिस तरह आम आदमी पार्टी को महिलाओं ने घर से निकलकर वोट दिया और अपना कीमती समय निकालकर पार्टी के कार्यों को दे रही हैं,  उसी तरह अब पूरे देश में महिलाओं को अपना योगदान देना होगा। 

उन्होंने कहा कि महिलाओं को घर में नहीं बैठना है और किसी प्रकार की समस्या होने पर हर चौराहे, नुक्कड़ पर आना है। योगेंद्र यादव के मुंह पर कालिख पोतने वाली घटना पर उन्होंने कहा कि यह जो भी लोग हैं, इससे उनकी मानसिकता का पता चलता है। इससे पता चलता है कि वह कितनी बौखलाहट में हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You