लालकिला मैदान में जुटीं सैंकड़ों संगत

  • लालकिला मैदान में जुटीं सैंकड़ों संगत
You Are HereNational
Monday, March 10, 2014-1:29 AM
नई दिल्ली : बाबा बघेल सिंह एवं अन्य जरनैलों द्वारा 1783 में की गई दिल्ली फतेह को समॢपत कार्यक्रमों की लड़ी  में रविवार को लाल किला मैदान में विशाल समागम किया गया।
 
गुरमति समागम निहंग सिंघ फौजों एवं सिंघ साहिबानों की मौजूदगी इस अवसर पर खास रही। समागम में सैंकड़ों संगतों ने हिस्सा लिया और पहली बार हो रहे इस समागम की सराहना की। समागम का आयोजन दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से आयोजित किया गया। फतेह मार्च भी निकाला गया, जिसमें लोगों को खालसे की ताकत एवं एकजुटता की खास बानगी देखने को मिली।
 
इस मौके पर पंजाब के उपमुख्यमंत्री एवं शिरोमणी अकाली दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल, ज्ञानी गुरबचन सिंह जत्थेदार श्री अकाल तख्त साहिब, ज्ञानी इकबाल सिंह जत्थेदार तख्त श्री पटना साहिब, बाबा बलबीर सिंह प्रमुख बुडडा दल, बाबा निहाल सिंह हरियां वेलां वाले, बाबा अवतार सिंह दल पंथ बिधी चंद दल वाले, बाबा मक्खन सिंह  तरना दल, नामधारी संप्रदाय के बाबा दलीप सिंह, तरलोचन सिंह पूर्व सांसद एवं प्रो. दविंदर सिंह चाहल सहित सभी निहंग सिंघ संगठनों के प्रमुखों ने हाजरी भरी।
 
संगतों में बैठकर कीर्तन श्रवण करते हुए सुखबीर सिंह बादल ने चुनाव आचार सङ्क्षहता लागू होने के कारण स्टेज से सम्मान प्राप्त करने और संगतों को संबोधित करने से गुरेज किया। ज्ञानी गुरबचन सिंह ने दिल्ली कमेटी के प्रयत्नों की प्रशंसा करते हुए दिल्ली फतेह के इतिहास का हवाला भी दिया। जत्थेदार द्वारा इस अवसर पर कमेटी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के. एवं महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा का सम्मान किया गया। 
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You