Subscribe Now!

‘जनता को धोखा दे रही हैं भाजपा और कांग्रेस’

  • ‘जनता को धोखा दे रही हैं भाजपा और कांग्रेस’
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-2:52 PM

रायपुर: छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच ने अपने संविधान में संशोधन कर इसे विस्तार दिया है, जिसके बाद अब केंद्रीय कमेटी के साथ ही प्रदेश इकाई भी काम करेगी। इसके लिए महाराष्ट्र, झारखंड और छत्तीसगढ़ में प्रदेश इकाई का गठन किया गया है। तीनों प्रदेशों के अध्यक्षों की भी घोषणा कर दी गई है। छत्तीसगढ़ से भोजराम डडसेना, महाराष्ट्र से बाबूलाल साहू और झारखंड से प्यारे लाल साहू को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। मंच ने सभी प्रदेशों में लोकसभा प्रत्याशी उतारने का भी निर्णय लिया है। 12 मार्च तक तीनों राज्यों में प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ स्वाभिमान मंच के केंद्रीय प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि सम्मेलन राजधानी में रविवार को हुआ। इसमें मंच के भाजपा में विलय को खारिज कर दिया गया। वहीं यह तय किया गया कि छत्तीसगढ़ की 11 सीटों के साथ ही महाराष्ट्र और झारखंड में भी मंच लोकसभा चुनाव लड़ेगा। महाराष्ट्र और झारखंड में तीन-चार सीटों पर चुनाव लडऩे की तैयारी है। इस संबंध में मंच के संविधान में संशोधन किया गया है। इसका प्रस्ताव केंद्रीय प्रवक्ता ने किया। उन्होंने महाराष्ट्र, झारखंड और छत्तीसगढ़ में प्रदेश इकाई गठित करने का प्रस्ताव रखा, जिसे केंद्रीय अध्यक्ष मन्नूलाल परगनिया सहित सभी पदाधिकारियों ने पारित कर दिया।

इसी तरह केंद्रीय महासचिव विष्णु बघेल ने पार्टी की गतिविधियों और कोषाध्यक्ष भगत राम सोनी ने आय-व्यय का ब्यौरा दिया। सम्मेलन में यह तय किया गया कि जिन लोकसभा क्षेत्र में चुनाव लडऩा है, उनके दावेदारों से 12 मार्च तक आवेदन ले लिए जाएं और नामों की घोषणा उसी दिन कर दी जाए। सम्मेलन में प्रस्ताव पारित किया गया कि धान के बोनस को लेकर भाजपा और कांग्रेस जनता को धोखा दे रही हैं, ऐसे दलों को सत्ता में आने से रोकना है। बताया जा रहा है कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) का एक धड़ा मंच में शामिल हो सकता है।

यह संभावना जताई जा रही थी कि पदाधिकारी सम्मेलन के दिन मंच की सदस्यता ग्रहण करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। बताया जा रहा है कि राकांपा के पदाधिकारी की अभी प्रदेशभर में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से चर्चा जारी है। चर्चा पूरी नहीं होने की वजह से राकांपा के पदाधिकारी मंच में शामिल नहीं हुए। समाजवादी पार्टी (सपा) के पूर्व अध्यक्ष अजय वर्मा सहित कार्यकर्ताओं ने मंच की सदस्यता ली। सभी ने मंच की नीति को बेहतर बताते हुए ईमानदारी के साथ काम करने की बात कही।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You