अन्ना हजारे नहीं पहुंचे ममता की रैली में

  • अन्ना हजारे नहीं पहुंचे ममता की रैली में
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-7:42 PM

 नई दिल्ली  : ममता बनर्जी और अन्ना हजारे की आज की यहां की बहुप्रचारित संयुक्त रैली हजारे की गैर मौजूदगी के चलते फुस्स रही तथा दोनों पक्षों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। समझा जा रहा था कि ममता बनर्जी अन्ना हजारे के साथ मिलकर अपनी राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा को आगे बढ़ाने की प्रयास कर रही हैं, लेकिन आज का यह मंच सिर्फ तृणमूल कांंग्रेस की रैली बनकर रह गया।

 लोगों की कम उपस्थिति से बेहद परेशान ममता ने हालांकि दावा किया कि रैली का आयोजन तृणमूल ने नहीं बल्कि अन्ना के समर्थकों ने किया था और वह बस उसमें शामिल होने आयी थीं। ममता ने कहा ‘‘यह मेरी नहीं, उनकी रैली थी। उन्होंने हमें न्यौता दिया था और मैं उनके न्यौते पर आयी। ’’ अन्ना हजारे संभवत: रैली में शामिल होने के लिए कल रात महाराष्ट्र से यहां पहुंचे थे, लेकिन कई घंटे विलंब करने के बाद भी वह रैली में नहीं पहुंचे।

  रैली से तुरंत पहले हजारे ने कहा था कि वह रैली में शिरकत करेंगे, लेकिन वह नहीं पहुंचे। उनके सहयोगियों ने कहा कि वह अस्वस्थ होने के कारण रैली में नहीं पहुंच पाए। हालांकि अपने शिष्य रहे अरविंद केजरीवाल की पार्टी को दरकिनार करते हुए उन्होंने पहले तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया था।ममता के करीबी सहयोगी मुकुल राय हजारे से मिलने महाराष्ट्र सदन गए लेकिन दोनों के बीच क्या बातचीत हुई, उसका पता नहीं चल पाया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You