पहले ही बेरंग हुई पैरेंट्स की होली

  • पहले ही बेरंग हुई पैरेंट्स की होली
You Are HereNcr
Wednesday, March 12, 2014-11:39 PM

नई दिल्ली (मनीष राणा) : दिल्ली के स्कूलों में नर्सरी एडमिशन को लेकर शुरू हुई दौड़ में आज भी अभिभावक वहीं खड़े हैं, जहां से उन्होंने इस रैस में हिस्सा लिया था। अब बुधवार को कोर्ट के आदेश के बादअभिभावकों को समझ नहीं आ रहा है कि आगे क्या होगा और क्या नहीं होगा।


राजधानी के स्कूलों में नर्सरी एडमिशन को लेकर मौजूदा विवाद उपराज्यपाल द्वारा 27 फरवरी को एक आदेश जारी किए जाने के बाद शुरू हुआ था। इस आदेश में 100 अंकों में से अंतर्राज्यीय तबादला मामलों को दिए जाने वाले 5 अंकों को समाप्त करने की व्यवस्था की गयी थी।


अदालत ने 6 मार्च के आदेश में दिल्ली सरकार से कहा था कि वह पड़ोस के मापदंड के आधार पर 70 अंक हासिल करने वाले और समान पायदान पर खड़े अन्य बच्चों के बीच नए सिरे से लॉटरी निकाले। इसके विरोध में  कुछ बच्चों के अभिभावकों ं द्वारा दाखिल इस याचिका में आरोप लगाया गया है कि ड्रॉ निकाले जाने के बाद उन्हें नर्सरी दाखिले में चयनित घोषित किया जा चुका है और इस मुद्दे पर एकल न्यायाधीश की पीठ के आदेश की अनुपालना में उन्हें फिर से इस प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा।


अभिभावकों की याचिका पर फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने स्टे दे दिया और 24 मार्च को अगली तारीख को ही फैसला हो पाएगा। कोर्ट के फैसले से अभिभावक वहीं आ गए, जहां से उन्होंने शुरू किया था । ऐसे में अगली तारीख तक अभिभावक और स्कूल कुछ नहीं कर पाएंगे। अभिभावकों के साथ ही स्कूलों को भी इस बार समझ में नहीं आ रहा है कि आगे क्या होगा क्या नहीं होगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You