शिवसेना की आलोचना को भाजपा ने बताया ‘दोस्ताना सलाह’

  • शिवसेना की आलोचना को भाजपा ने बताया ‘दोस्ताना सलाह’
You Are HereNational
Thursday, March 13, 2014-2:31 PM

नई दिल्ली: अपने सहयोगी शिवसेना की कड़ी आलोचना को भाजपा ने खास कुछ नहीं बताने के प्रयास में इसे ‘दोस्ताना सलाह’ बताया और कहा कि दोनों दलों के बीच एक ‘दीर्घकालीन प्रतिबद्धता’ है। गौरतलब है कि शिवसेना ने राज ठाकरे के साथ नजदीकी बढ़ाने को लेकर भाजपा की आलोचना करते हुए उसपर ‘विश्वास की कमी’ पैदा करने का आरोप लगाया है।

भाजपा के प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘‘मैंने सामना में लेख पढ़ा। इसमें इतिहास के संदर्भ दिए गए हैं। इसमें मूल रूप से शिवसेना की दोस्ती, भाजपा और राजग के साथ दीर्घकालीन प्रतिबद्धता के बारे में कहा गया है। और इसलिए यह एक दोस्ताना सलाह की तरह है और भाजपा के खिलाफ कुछ नहीं है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जहां तक भाजपा और शिवसेना के बीच के मामले का सवाल है, उसे सुलझा लिया गया है और अब कोई समस्या नहीं हैं। हम एक स्थायी सहयोगी हैं और महाराष्ट्र में जीत के लिए लड़ेंगे एवं 35 से अधिक लोकसभा सीट जीतेंगे।’’

इससे पहले शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने पार्टी के मुखपत्र सामना में कड़े शब्दों वाले एक संपादकीय में राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के साथ नजदीकियां बढ़ाने के लिए भाजपा की आलोचना की थी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You