चारधाम यात्रा के पर्यटकों के लिए खुशखबरी

  • चारधाम यात्रा के पर्यटकों के लिए खुशखबरी
You Are HereNational
Thursday, March 13, 2014-4:42 PM

नर्इ दिल्ली: उत्तराखंड सरकार इस बार चारधाम यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों का बायोमेट्रिक पंजीकरण करेगी। राज्य के सभी प्रवेश द्वारों और प्रमुख धामों के आधार स्थलों पर यात्रियों का बायोमेट्रिक पंजीकरण किया जाएगा। यात्रा 2 मई से शुरू हो रही है।

उत्तराखंड सरकार के पर्यटन सचिव डा. उमाकांत पंवार ने आज यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुए कहा कि राज्य सरकार ने पिछले साल की प्राकृतिक आपदा को देखते हुए इस बार चारधाम की यात्रा करने वाले पर्यटकों की सुरक्षित यात्रा के लिए व्यापक प्रबंध किये हैं।

उन्होंने बताया कि राज्य की चारधाम यात्रा 2 मई से शुरू हो रही है। यमनोत्री, गंगोत्री मंदिर 2 मई को, केदारनाथ के कपाट 4 मई को और बद्रीनाथ के कपाट 5 मई को खुलेंगे। हेमकुंड साहिब जाने वाले यात्री 25 मई से वहां दर्शन कर सकेंगे।

पंवार ने बताया, ‘‘राज्य के प्रमुख प्रवेश द्वारों पर यात्रियों के पंजीकरण की व्यवस्था की जायेगी। इसके अलावा प्रमुख मंदिरों के आधार स्थलों पर भी यात्रियों का बायोमेट्रिक पंजीकरण किया जायेगा। करीब 25 स्थानों पर इसकी व्यवस्था होगी। इसका सबसे बड़ा केन्द्र रिषिकेश में होगा।’’

संवाददाताओं के सवालों के जवाब में पंवार ने कहा, ‘‘सुरक्षित यात्रा के व्यापक इंतजाम किये गये हैं। सड़कों और दूसरी ढांचागत सुविधाओं पर काम 30 अप्रैल तक पूरा कर लिया जायेगा। अर्धसैनिक बलों के जवान तैयार रहेंगे। मौसम विभाग से भी लगातार संपर्क रहेगा।’’
 
उन्होंने कहा कि देहरादून में उत्तराखंड पर्यटन के मुख्यालय में एक विशेष नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जायेगा। इसकी सेवा सुबह 7 बजे से 9 बजे तक उपलब्ध होगी।’’

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You