केजरी के समर्थन में मैत्रेयी पुष्पा

  • केजरी के समर्थन में मैत्रेयी पुष्पा
You Are HereNational
Friday, March 14, 2014-12:37 AM

नई दिल्ली (अभिषेक आनन्द) : प्रसिद्ध साहित्यकार मैत्रेयी पुष्पा ने दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नाम खुला खत लिखते हुए उनका समर्थन किया है। मैत्रेयी पुष्पा वही साहित्यकार हैं,  जिन्हें आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष बनाने के लिए सिफारिश की थी। लेकिन राज्यपाल ने उसे मंजूर नहीं किया था।


खत का मजमून कुछ ऐसा है कि देश के हालात बेहद खराब है, बदलाव की बात चल रही है जिसका लोग विरोध कर रहे हैं लेकिन उस विरोध को पुष्पा ने स्वभाविक करार दिया है। उन्होंने प्रसिद्ध लेखक राजेंद्र यादव का जिक्र करते हुए कहा है कि जब जब बदलाव की इबारत लिखी जाती है तब तब उसका पुरजोर विरोध होता है।

दूसरी स्थिति आती है, तब लोग चुप्पी साध जाते हैं, अनदेखा अनसुना करते हैं। तीसरी स्थिति में स्वीकार करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचता। लिटरेचर की दुनिया में ऊंची शोहरत पाने वाली साहित्यकार ने कहा है कि अरविंद, तुम्हारे साथ ऐसी ही तीनों स्थिति तेजी से घटित हो रही है। खत लिखने के अलावा क्या वह आगे भी केजरीवाल के समर्थन के लिए काम करेंगी? उन्होंने नवोदय टाइम्स से कोई सटीक जवाब नहीं दिया। लेकिन पूछे जाने पर कहा कि मैं साहित्यकार हूं, आपको क्या लगता है, मैं चुनाव थोड़े न लड़ूंगी?


प्रिय अरविंद लिखते हुए उस मामले पर भी सफाई दी है जिसमें उनके और अरविंद के बीच किसी संबंध की बात कही जा रही थी। पुष्पा ने लिखा है कि मेरा तुमसे कोई संपर्क नहीं था, सम्बन्ध की तो नौबत ही कहां से आती? आगे उन्होंने लिखा, उम्मीदें होश खोने लगीं कि हमारे देश की हालत ऐसे ही बिगड़ती जानी है।  मंहगाई की मार, किसानों की आत्महत्याएं, स्त्रियों पर यौनिक हमले आम आदमी की मुफलिसी और अपमान.. ये सब हमारे आजाद देश के लोकतंत्र की सौगातें हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You