...तो इसलिए ममता की रैली में नहीं पहुंचे अन्ना

  • ...तो इसलिए ममता की रैली में नहीं पहुंचे अन्ना
You Are HereNational
Friday, March 14, 2014-4:20 PM

नई दिल्ली: दो दिन पहले तृणमूल कांग्रेस की रैली में नहीं पहुंचकर ममता को असहज स्थिति में डालने वाले भ्रष्टाचार विरोधी अभियानकर्ता अन्ना हजारे ने आज कहा कि वह बहुत कम लोगों की उपस्थिति वाली रैली में इसलिए नहीं गए क्योंकि उन्हें गुमराह किया गया।

उन्होंने कहा कि वह किसी भी राजनीतिक दल का समर्थन नहीं करते लेकिन एक व्यक्ति के रूप में ममता बनर्जी उन्हें सही लगती हैं क्योंकि वह देश के सभी मुख्यमंत्रियों में सर्वश्रेष्ठ हैं।

ममता की रैली में नहीं पहुंचे अन्ना


बुधवार को रामलीला मैदान में हुई बहुप्रचारित रैली में अपनी गैर मौजूदगी पर चुप्पी तोड़ते हुए हजारे ने यहां संवाददाताओं से कहा कि वह इसलिए वहां नहीं गए क्योंकि उन्हें गुमराह किया गया। उन्होंने कहा कि उन्हें बताया गया कि उन्हें बनर्जी द्वारा आयोजित रैली में शामिल होना है जबकि तृणमूल प्रमुख को बताया गया कि यह अन्ना हजारे की रैली है।

हजारे ने एक आयोजक का नाम लेते हुए कहा, ‘‘जब मैं दिल्ली आया तब मैंने पाया कि रैली में महज 2000 या ढाई हजार लोग हैं। मैंने सोचा कि कुछ गड़बड़ है क्योंकि रामलीला मैदान में चार हजार लोग भी नहीं है जबकि पिछले बार प्रदर्शन के दौरान मैदान खचाखच भरा था। यह भूल है, यह धोखाधड़ी है।’’

गौरतलब है कि दिल्ली के रामलीला मैदान में ममता बनर्जी की रैली के दैरान अन्ना के आने की बाद कही गई थी, लेकिन ऐन मौके अन्ना रैली में नहीं पहुंचे थे।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You