समय पर उपचार न होने से गर्भवती महिला की मौत

  • समय पर उपचार न होने से गर्भवती महिला की मौत
You Are HereNational
Sunday, March 16, 2014-3:33 PM

सिवनी: मध्यप्रदेश के इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय सिवनी में उपचार के लिए भर्ती कराई गई एक नवविवाहित गर्भवती महिला की कथित रूप से उपचार के अभाव में आज सुबह मौत हो जाने का मामला प्रकाश में आया है। सूत्रों के अनुसार शहर से दो किलोमीटर दूर स्थित ग्राम नरेला निवासी नवविवाहिता सरिता साहू (23) तीन माह से गर्भवती थी और कल देर रात पेट में दर्द होने के कारण उसके परिजनों ने उसे उपचार हेतु जिला चिकित्सालय के महिला वार्ड में भर्ती कराया था।

सरिता के पति बलराम साहू ने आरोप लगाया कि इस अस्पताल में उस वक्त कोई चिकित्सक ड्यूटी पर नहीं था और वहां उपस्थित स्टाफ नर्स के द्वारा दर्द से कराह रही उसकी पत्नी की ओर कोई ध्यान नहीं दिया। बलराम ने कहा कि उसकी पत्नी को असहनीय पीड़ा हो रही थी, जिसके चलते उसकी आज सुबह मृत्यु हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि जब तक उसकी पत्नी जिंदा थी, तब तक कोई वरिष्ठ एवं महिला चिकित्सक अस्पताल नहीं आए। इस बात की शिकायत बलराम ने अस्पताल प्रबंधन से की और लापरवाह चिकित्सकों पर कार्रवाई करने की मांग की।

वहीं इस मामले में सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक डॉ. एस एन सोनी का कहना है कि रात्रि में कोई महिला चिकित्सक ड्यूटी पर नहीं रहती है। यदि सरिता की स्थिति गंभीर थी, तो परिजनों को चिकित्सकों से संपर्क कर उन्हें अस्पताल में बुलाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मृत महिला का पोस्टमॉर्टम कराने के लिए उसके परिजन तैयार नहीं हैं। सोनी ने बताया कि इस मामले में जांच की जाएगी और अगर जांच में कोई दोषी पाया जाता है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You