नशा उतरने पर समझ आया कि सब ख़त्म हो गया!

  • नशा उतरने पर समझ आया कि सब ख़त्म हो गया!
You Are HereNational
Tuesday, March 18, 2014-5:04 PM

हैदराबाद: शराब का नशा बहुत बुरा नशा माना जाता है, जिसमें व्यक्ति को कुछ होश नहीं रहता कि वह क्या कर रहा है, परन्तु जब उसे होश आता है तो पता लगता है कि अब तो सब कुछ ख़त्म हो गया है। ऐसा ही एक मामला हैदराबाद में देखने को मिला, जहां एक पत्नी ने शराब के नशे में पति की हत्या कर दी, परन्तु बाद में उसे समझ आया कि उसने क्या कर दिया।

प्राप्त जानकारी मुताबिक हैदराबाद में वी. नरसिम्हा अपनी पत्नी रामुलंमा के साथ मज़दूरी करता था और दोनों पति-पत्नी हमेशा शराब में डूबे रहते थे। उनका एक 16 सालों का बेटा तिरुमलेश भी था, जो माता-पिता की घर चलाने में मदद करता था, क्योंकि उसके माता-पिता ज़्यादातर पैसे शराब पर ख़र्च कर देते थे।

एक दिन तिरुमलेश काम से घर आ रहा था तो उसने अपने पिता को सड़क किनारे बेहोश पड़ा देखा। वह अपने पिता को ले कर घर चला गया। अपने पति के मिट्टी के साथ लिबड़े कपड़े देख कर शराब के साथ परितृप्त हुई रामुलंमा ने डंडा उठाया और पति को पीटना शुरू कर दिया। जब तिरुमलेश ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसने अपने बेटे को एक कमरे में बंद कर दिया और लगातार पति को डंडों के साथ पीटती रही, जिसके बाद उसके पति का ख़ून निकलना शुरू हो गया और उसकी मौत हो गई।

जब रामुलंमा का नशा उतरा तो उसे समझ आया कि उसने क्या कर दिया है। वह जल्दी-जल्दी सभी सबूत मिटाने लग पड़ी, परन्तु इतने में एक पड़ोसी ने नरसिम्हा की लाश देख के लिए और पुलिस को फ़ोन कर दिया। पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर रामुलंमा को हिरासत में ले लिया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You