‘मोहब्बत की राजनीति करने आया हूं’

  • ‘मोहब्बत की राजनीति करने आया हूं’
You Are HereNational
Tuesday, March 18, 2014-11:26 PM

नई दिल्ली(वसीम सैफी): देश में हिन्दू या मुसलमान दंगा नहीं चाहता। न ही वो दंगा करते हैं। दंगा तो कराया जाता है। जिसमें सिर्फ गरीब हिन्दू-मुसलमान मरते हैं।

कभी नेता या उसके रिश्तेदार नहीं मरते। दंगा नेता कराते हैं फिर खुद ही जांच बैठाते हैं और खुद ही क्लीन चिट ले लेते हैं लेकिन हम इस जहर की राजनीति को खत्म कर प्यार और मोहब्बत की राजनीति करने के लिए आए हैं। इनशा अल्लाह हमारी जीत होगी। यह बातें आम आदमी प्रमुख (आप) एवं पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को गालिब इंस्टिट्यूट में ‘रोडमैप फोर इंडियन मुस्लिम’ विषय पर आयोजित नैशनल कांफ्रैंस में कही।


कार्यक्रम में सुरक्षा, न्याय, शिक्षा और रोजगार के मुद्दों पर देश भर से आए बुद्धिजीवी मुसलमानों ने चार्चा की। कार्यक्रम में पहुंचने के दौरान केजरीवाल को गालिब इंस्टिच्यूट मुख्य द्वार पर बिहार मधुबनी से आए कुछ लोगों के गुस्से और टिकट बटवारे में अंदेखी करने के आरोपों का सामना करना पड़ा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You