होली की हुड़दंग में शराबियों को काटा कुत्तों ने

  • होली की हुड़दंग में शराबियों को काटा कुत्तों ने
You Are HereNational
Wednesday, March 19, 2014-12:23 AM

नई दिल्ली : होली के दिन जाम छलका तो कदम बहक गए। नशे में लडख़ड़ाते कदमों को देख लोगों ने तो चटखारे लिए ही, कुत्ते भी दुश्मन हो गए। रोजाना  गलियों से गुजरते हुए कभी जिसे  डॉगी, शेरू, टाइगर कहकर पुचकारते थे, उसी ने किसी की टांग तो किसी की कमर नोंच ली।

जख्म से नशा तो काफूर हुआ ही अस्पताल के चक्कर लगाने पड़ गए। शहर के बाकी अस्पतालों की बात छोड़ दें तो सिर्फ अकेले महर्षि वाल्मीकी अस्पताल में होली के दिन 30 मामले कुत्ते काटने के आए।

अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ. कीर्ति भूषण ने बताया कि होली के दिन यहां आए कुत्ते के काटने के 30 मामलों में अधिकतर में पीड़ितों ने शराब पी रखी थी। सभी पीड़ितों को तत्काल वैक्सीन लगाई गई।
महर्षि वाल्मीकी अस्पताल में बवाना, पूठखुर्द, खेरा गडी, बरवाला, प्रहलादपुर बांगर समेत रोहिणी के  कुछ इलाकों से लोग इलाज कराने के लिए आते है।

चिकित्सा अधीक्षक डॉ. कीर्ति भूषण का कहना था कि हमारे अस्पताल में कुत्ते काटने के केस तो अमूमन तीन-चार आते रहते हैं     लेकिन होली के दिन इनकी संख्या कुछ ज्यादा ही बढ़ गई। दरअसल शराब के नशे में धुत होकर लोग घरों से निकले तो बहके कदम देख कुत्ते ना केवल भौंकने लगे बल्कि कईयों को काट भी लिया।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You