मोदी गुजरात दंगों की नैतिक जिम्मेदारी से बच नहीं सकते : पवार

  • मोदी गुजरात दंगों की नैतिक जिम्मेदारी से बच नहीं सकते : पवार
You Are HereNational
Wednesday, March 19, 2014-5:43 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने आज कहा कि एक अदालत द्वारा ‘‘क्लीन चिट ’’ दिए जाने के बावजूद गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्ष 2002 के गोधरा कांड के बाद भड़के दंगों की ‘‘नैतिक जिम्मेदारी ’’ से बच नहीं सकते।  इसके साथ ही पवार ने कहा कि वह गुजरात दंगों के मामले में प्रधानमंत्री पद के भाजपा के उम्मीदवार को बरी किए जाने के अदालत के फैसले का सम्मान करते हैं।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने सीएनएन-आईबीएन से बातचीत में कहा, ‘‘अदालत ने कुछ कहा है जिसका हमें सम्मान करना होगा। लेकिन मैं यह भी कहता हूं कि यदि मैं एक राज्य का मुख्यमंत्री हूं और यदि इस तरह का (दंगा) कुछ होता है, तो मैं अपनी जिम्मेदारी, नैतिक जिम्मेदारी से बच नहीं सकता।’’उनसे सवाल किया गया था कि क्या वह मानते हैं कि जब गुजरात में दंगे भड़के तो इसकी नैतिक जिम्मेदारी मोदी पर थी? इस पर पवार ने अपने जवाब में कहा, ‘‘कोई भी मुख्यमंत्री हो, नरेन्द्र मोदी समेत ।’’

उनके पूर्व के इस बयान पर सवाल किए जाने पर कि अदालत द्वारा बरी किए जाने के बाद सांप्रदायिक हिंसा मामले में अब मोदी को और जिम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए, पवार ने दोहराया कि अदालत के फैसले का सम्मान किया जाना चाहिए। 2004 का उदाहरण सामने है उस वक्त सभी चुनावी पोल धराशायी हो गए थे। तब अटल बिहारी वाजपेयी मोदी के मुकाबले बहुत बड़े व्यक्तित्व थे। पवार ने कहा कि मैं कोई ज्योतिषी नहीं हूं, लेकिन मुझे पूरा यकीन है कि बीजेपी 272 के जादुई आंकड़े तक नहीं पहुंच पाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You