Subscribe Now!

इंटरनेट पर Live दिखेगी कछुओं के अंडे देने की प्रक्रिया

  • इंटरनेट पर Live दिखेगी कछुओं के अंडे देने की प्रक्रिया
You Are HereNational
Wednesday, March 19, 2014-5:09 PM

केंद्रपाड़ा (ओडि़शा): रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और ओडि़शा वन विभाग संयुक्त रूप से गहिरमाथा के समुद्र तट पर ओलिव रिडले कछुओं के सालाना रूप से आने और अंडा देने की प्रकिया इंटरनेट पर लाइव दिखाने के लिए काम कर रहे हैं। सामरिक परीक्षण रेंज केंद्र के अधिकारियों ने सुरक्षा संबंधी कारणों से वन विभाग के टांसमीटर लगाने से जुड़ा अनुरोध नामंजूर कर दिया।

वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रक्षा शाखा हालांकि इस प्राकृतिक प्रक्रिया को दुनिया भर में दिखाने के लिए बुनियादी संरचना एवं रसद सामग्री उपलब्ध कराने को सहमत हो गई। राजनगर मैंग्रोव (वन्यजीवन) वन प्रखंड के प्रभागीय वन अधिकारी केदार कुमार स्वैन ने कहा कि केंद्रपाड़ा जिले के गहिरमाथा तटीय जल में ओलिव रिडले कछुए बड़ी संख्या में जुटे हैं।

इससे तट पर अंडा देने के लिए लाखों की संख्या में कछुओं के आने के संकेत मिलते हैं। कछुओं के संरक्षण में लगे गश्ती पोतों ने हजारों कछुओं को यहां से एक समुद्री मील की दूरी पर आते देखा है। ऐसा पहली बार है जब दुनिया भर में इन कछुओं के अंडे देने की प्रक्रिया को इंटरनेट के माध्यम से दिखाया जाएगा। स्वैन ने कहा कि वेब कास्टिंग से इन समुद्री जीवों को जरूरी चर्चा मिलेगी। साथ ही इससे पारिस्थितिकीय पर्यटन संभावनाओं को भी बढ़ावा मिलेगा।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You