यासीन भटकल और असदुल्ला अख़्तर की ज़मानत अर्जी खारिज

  • यासीन भटकल और असदुल्ला अख़्तर की ज़मानत अर्जी खारिज
You Are HereNational
Thursday, March 20, 2014-8:27 PM

 नई दिल्ली : दिल्ली में 2008 में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के मामले में एक स्थानीय अदालत ने आज इंडियन मुजाहिदीन के सह-संस्थापक यासीन भटकल और उसके सहयोगी असदुल्ला अख्तर की ज़मानत अर्जी खारिज कर दी ।

 अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश दया प्रकाश ने भटकल और अख़्तर की ज़मानत अर्जी खारिज की । उन्होंने दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा की वह अजऱ्ी मान ली जिसमें उसने 13 सितंबर 2008 को ग्रेटर कैलाश-1 के एम ब्लॉक मार्केट में हुए धमाके के मामले में भटकल और अख्तर के खिलाफ जांच पूरी करने के लिए 15 दिन की मोहलत मांगी थी ।

अदालत ने 3 अप्रैल से पहले दोनों आरोपियों की पेशी के लिए वॉरंट भी जारी किए । दोनों अभी महाराष्ट्र के आतंकवाद निरोधक दस्ते :एटीएस: की हिरासत में मुंबई में हैं ।  विशेष शाखा ने अपनी अर्जी में कहा कि किसी पश्चिम एशियाई देश में एक अन्य संदिग्ध, जो इस मामले में शामिल था, की हिरासत की बाबत केंद्रीय खुफिय़ा एजेंसियों के जरिए एक अहम सूचना मिली है ।

पुलिस ने कहा, ‘‘इस संदिग्ध की पहचान की पुष्टि के लिए केंद्रीय खुफिय़ा एजेंसियों के साथ जरूरी समन्वय स्थापित किया जा रहा है ताकि उसके प्रत्यर्पण या वहां से भारत भेजने को लेकर जल्द से जल्द जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा सके ।’’

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You