कांग्रेस को एक और झटका, सतपाल महाराज BJP में शामिल

You Are HereUttrakhand
Friday, March 21, 2014-4:11 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एक झटका देते हुए उत्तराखंड के शक्तिशाली नेता और लोकसभा सदस्य सतपाल महाराज आज कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गए। वह पिछले 20 साल से कांग्रेस के सदस्य थे।

भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह द्वारा यहां पार्टी मुख्यालय में उन्हेें दल में शामिल करने की औपचारिकता पूरी किए जाने के बाद सतपाल महाराज ने गुजरात के मुख्यमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री बनने पर नरेन्द्र मोदी ‘‘भारत को चीन से आगे ले जाएंगे।’’ इस राजनीतिक और आध्यात्मिक नेता का नाम सतपाल सिंह रावत है लेकिन अपने प्रशंसकों में वह सतपाल महाराज के रूप से जाने जाते हैं। उनकी पत्नी अमृता रावत उत्तराखंड विधानसभा में कांग्रेस की विधायक हैं।

उत्तराखंड में सतपाल महाराज का अच्छा प्रभाव माना जाता है। सतपाल महाराज पिछले लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड के पौड़ी चुनाव क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर जीते थे। बताया जाता है कि उत्तराखंड के गढवाल क्षेत्र से उम्मीदवारों के चयन में अपनी राय नहीं माने जाने से वह कांग्रेस आलाकमान से नाराज थे। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने हाल ही में उनसे मुलाकात करके उन्हें मनाने का प्रयास किया लेकिन बात नहीं बनी। वह रावत के मुख्यमंत्री बनने से भी खुश नहीं थे। कहा जाता है कि वह खुद इस कुर्सी की इच्छा रखते थे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You