उपेक्षित, व्यथित होकर कांग्रेस छोड़ी: महाराज

  • उपेक्षित, व्यथित होकर कांग्रेस छोड़ी: महाराज
You Are HereNational
Saturday, March 22, 2014-1:14 PM

देहरादून: कांग्रेस छोडकर भाजपा में शामिल हुए उत्तराखंड में पौडी के सांसद सतपाल महाराज ने कहा कि कांग्रेस द्वारा उनकी विकास की सोच तथा बातों को अनदेखा और अनसुना किये जाने से उपेक्षित और व्यथित होकर उन्होंने भारी मन से कांग्रेस से इस्तीफा दिया और देश के विकास के लिये वह बिना शर्त भाजपा में आये हैं तथा नरेंद्र मोदी के मिशन 272 के लिए कार्य करेंगे। 
      
एक प्रेस वक्तव्य में महाराज ने कहा कि उनकी प्रारम्भ से ही पर्वतीय जनता के विकास की सोच रही है और इसी के तहत उन्होनें पृथक उत्तराखण्ड राज्य निर्माण के लिए आंदोलन किया और पहाड़ तथा यहां की जनता के विकास के लिये शहीद आंदोलनकारियों के सपने को पूरा करने के लिये सभी के सहयोग से हर मुद्दे को उठाया ।
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के ढुलमुल रवैये के कारण यह सब अधूरा है जो उनका ही नहीं अपितु समस्त उत्तराखण्ड की जनता के साथ अन्याय है। महाराज ने कहा कि गत वर्ष आयी आपदा के प्रभावितों को आज तक रहने के लिए छत भी नहीं मिली है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार द्वारा प्रभावितों को मकान बनाने के लिए भूमि की जगह सात लाख रुपए मुआवजे के तौर पर दिए गए जिससे पहाड़ों से सामूहिक रूप से पलायन हो रहा है। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You