शिवसेना ने BJP को दी नसीहत, 'आडवाणी युग अभी खत्म नहीं'

You Are HereNational
Saturday, March 22, 2014-2:08 PM

नई दिल्ली: शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने लालकृष्ण आडवाणी को लेकर भाजपा पर जमकर हमला किया हैं। उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर कड़ा हमला बोलते हुए 'सामना' में लिखा है कि आडवाणी बेशक उम्रदराज हो गए हैं, लेकिन मैदान से बाहर नहीं। उन्होंने साफ-साफ नसीहत देने के अंदाज में लिखा है कि आडवाणी को आदर देना न छोड़ें।

उद्धव ने सामना में लिखा,‘भाजपा में बेशक मोदी युग शुरू हो गया है, लेकिन राजनीति में अब भी आडवाणी का युग अस्त नहीं हुआ है।’ उद्धव ने लिखा कि भाजपा ने आडवाणी के साथ ठीक नहीं किया। उद्धव का मानना है कि भाजपा ने आडवाणी को टिकट देने में काफी देर की। बुजुर्ग नेताओं का इस तरह से अपमान करना ठीक नहीं है। उद्धव का मानना है कि भाजपा की चाबी अब भी आडवाणी के पास ही है।

उद्धव ठाकरे का यह बयान ऐसे समय आया है जब गत गुरवार को आडवाणी ने कहा था कि उन्होंने गांधीनगर सीट से चुनाव लडऩे का निर्णय लिया है। उन्होंने राजनाथ सिंह और नरेंद्र मोदी समेत पार्टी नेताओं द्वारा मनाए जाने के बाद और यह बताए जाने के बाद निर्णय लिया कि उन्हें गुजरात और भोपाल दोनों सीटों के बीच चयन करने का अधिकार है।

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘ मुरली मनोहर जोशी को कानपुर से लडऩे के लिए कहा गया ताकि मोदी वाराणसी से खड़े हो सकें। राजनाथ ने गाजियाबाद के बजाए लखनउ की सुरक्षित सीट चुनी। नवजोत सिंह सिद्धू को हटाकर जेटली को अमृतसर से खड़ा किया गया। तो फिर आडवाणी के मामले में इतनी देर क्यों की गई।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ दिग्गज नेता का आमजन के साथ संबंध अब भी वैसा ही है। मौजूदा राजनीतिक विवादों की तुलना में आडवाणी प्रकरण तुच्छ महसूस हो सकता है लेकिन यह बात ध्यान रखनी चाहिए कि ऐसी छोटी घटनाओं के जरिए बड़े हादसे हो सकते हैंं।’’ 

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘ समय बीत जाने के बाद किसी बात को समझने का कोई फायदा नहीं है।’’ भाजपा के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे से मुलाकात के बाद शिव सेना और भाजपा के बीच पैदा हुई दरार के बीच उद्धव का यह तीखा बयान आया है। शिवसेना ने उत्तर प्रदेश, बिहार और दिल्ली से अपने उम्मीदवार खड़े करने के अपने निर्णय की कल घोषणा की थी।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You