दिल्ली विश्वविद्यालय: नये सत्र के एडमिशनों में हो सकते है बदलाव

  • दिल्ली विश्वविद्यालय: नये सत्र के एडमिशनों में हो सकते है बदलाव
You Are HereNational
Saturday, March 22, 2014-9:54 PM

 नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय में नये सत्र में एडमिशन लेने वाले छात्रों के लिए नये नियमों पर विचार किया जा रहा है। विश्वविद्यालय केउच्च अधिकारियों के बीच बैठकों का दौर भी जारी है। डीयू प्रशासन का कहना है कि इस संबंध में सभी कॉलेजों के प्रिंसिपलों से भी बात की जाएगी। दरअसल डीयू प्रशासन ने  कॉलेजों के प्रिंसिपलों से कुछ बिंदुओं पर राय मांगी थी। लेकिनप्रिंसिपलों की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है।

 दिल्ली विश्वविद्यालय के  स्टूडेंट वेलफेयर विभाग ने कॉलेजों के समक्ष दाखिले की  प्रक्रिया में सहूलियत के लिए कुछ सुझाव भेजे हैं। लेकिन इन सुझावों पर कुछ कॉलेजों को आपत्ति है। प्रिंसिपलों का कहना है कि जिस तरह के सुझावों पर डीयू प्रशासन विचार करने की बात कर रहा है, यदि कॉलेज प्रशासन की तरफ से  इस पर सहमति बन गई तो छात्रों के लिए अवसर कम जाएंगे। सूत्रों के अनुसार इस संबंध में कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। इन  बदलावों के बारे में स्टूडेंट वेलफेयर विभाग अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं है।
 

कॉलेजों को इन सुझावों पर है आपत्ति

कुछ कॉलेजों का  कहना है कि नये नियम के अनुसार एक छात्र 10 कॉलेजों और 6 कोर्सो में ही अपने एडमिशन के  लिए आवेदन कर सकता है। जिन कॉलेजों में सह शिक्षा है वहां पर छात्राओं को दाखिले के समय कटऑफ में दी जाने वाली छूट भी नहीं दी जाएगी।
यदि कोई साइंस का छात्र आर्टस में एडमिशन लेना चाहता है, या फिर कोई आर्टस का छात्र साइंस में एडमिशन करवाना चाहता है तो उसकी कटऑफ में दो फिसदी की कमी की जाएगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You