Subscribe Now!

‘मोदी के दिमाग में डाला है RSS का सॉफ्टवेयर’

  • ‘मोदी के दिमाग में डाला है RSS का सॉफ्टवेयर’
You Are HereNational
Sunday, March 23, 2014-5:05 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री तारिक अनवर ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हालिया बयान से सहमति जताते हुए कहा है कि कथित तौर पर सरकार द्वारा प्रायोजित 2002 के दंगों के लिए मोदी को पाकसाफ नहीं कहा जा सकता और ऐसे नजरिए वाले व्यक्ति का प्रधानमंत्री बनना देश के लिए ठीक नहीं रहेगा। अनवर ने मोदी की विचारधारा को लेकर उन पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘मोदीजी के दिमाग में आरएसएस का सॉफ्टवेयर डाला गया है और वह आरएसएस के रिमोट से संचालित होता है। सब जानते हैं कि आरएसएस की क्या विचारधारा है। यह देश विभिन्न धर्मों, जातियों, संस्कृति और भाषाओं वाला देश है। ऐसे में यहां अगर मोदी जैसे लोग प्रधानमंत्री बनते हैं तो यह देश के लिए ठीक नहीं होगा।’’मामला उपरी अदालत के विचाराधीन है। अभी (जकिया) जाफरी भी उच्च न्यायालय गई हैं। उन्होंने कहा कि एसआईटी की ओर से मोदी को दी गई क्लीन चिट सही नहीं है।

हैराष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री तारिक अनवर ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हालिया बयान से सहमति जताते हुए कहा है उन्होंने कहा, उस वक्त प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि मोदी ने राजधर्म का पालन नहीं किया है। हाल में उस वक्त के भाजपा अध्यक्ष रहे वैंकेया नायडू ने भी कहा कि अटलजी मोदी को हटाना चाहते थे, लेकिन पार्टी में दबाव के कारण ऐसा नहीं हो सका। मोदी को पाकसाफ नहीं कहा जा सकता। पिछले दिनों राहुल ने पीटीआई को दिए साक्षात्कार में कहा था कि 2002 के दंगों को लेकर मोदी को क्लीनचिट देना जल्दबाजी है और इस हिंसा को लेकर नैतिक एवं कानूनी जवाबदेही बनती है। केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री अनवर ने 1984 के सिख विरोधी दंगे और गुजरात दंगे में फर्क करते हुए कहा, लोग अक्सर 1984 और 2002 के दंगों की तुलना करते हैं। 1984 का दंगा अचानक भड़का (स्पॉनटेनियस) था, जबकि 2002 का दंगा सरकार द्वारा प्रायोजित था। कांगे्रेेस के नेतृत्व ने 1984 के लिए माफी मांगी, लेकिन मोदी ने आज तक माफी नहीं मांगी।  

 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You