रायगढ़: सीट की अदला-बदली से नाराज हुई कांग्रेस

  • रायगढ़: सीट की अदला-बदली से नाराज हुई कांग्रेस
You Are HereNational
Sunday, March 23, 2014-4:58 PM

मुम्बई: राकांपा के साथ रायगढ़ लोकसभा सीट की अदला-बदली जिले में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रास नहीं आई है और उन्होंने कहा कि यह फैसला कोंकण क्षेत्र में पार्टी की संभावनाओं पर गंभीर असर डालेगा। पार्टी नेताओं ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा,‘‘रायगढ़ कांग्रेस की पारंपरिक सीट रही है और पार्टी की ताकत का बैरामीटर हार या जीत नहीं है बल्कि वोट प्राप्ति है जो उल्लेखनीय है।’’

उन्होंने सवाल किया, ‘‘यदि सीट देने का मानदंड यह था कि हम पिछले तीन चुनाव नहीं जीत पाए तब तो ऐसी कई सीटें हैं। क्या हम ये सभी सीटें सहयोगी दल को दे दें।’’उनके अनुसार हर सीट के भिन्न पहलू है और पीजेंट एंड वर्कर्स पार्टी (पीडब्ल्यू) रायगढ में पिछले 50 साल से वर्चस्वकारी ताकत रही है लेकिन कांग्रेस की उपस्थिति कभी क्षीण नहीं हुई।

उन्होंने कहा, ‘‘पीडब्ल्यू के पास पहले दो बार कोलाबा सीट रह चुकी है और ए आर अंतुले के पास चार बार।’’उन्होंने कहा, ‘‘यह कहना गलत है कि कांग्रेस रायगढ़ में अनंत गीते को नहीं हरा सकती। गीते ने परिसीमन के बाद ही 2009 के चुनाव में ही रायगढ़ सीट का प्रतिनिधित्व किया था।’’

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You