नैय्या पार कराने में लगे गुर्जर-जाट नेता

  • नैय्या पार कराने में लगे गुर्जर-जाट नेता
You Are HereNcr
Tuesday, March 25, 2014-12:32 PM

 नई दिल्ली (अशोक शर्मा): लोकसभा चुनाव में बेशक भाजपा सातों सीटों पर मजबूत प्रत्याशियों को उतारने की दावेदारी कर रही है लेकिन दक्षिणी और पश्चिमी दिल्ली की लोकसभा सीटों पर मैदान में उतरे गुर्जर और जाट प्रत्याशियों की खासी धूम है। भाजपा प्रत्याशी रमेश बिधूड़ी और प्रवेश साहिब सिंह वर्मा एक-दूसरे की मदद के लिए अपने समाज से सिफारिशें भी कर रहे हैं।दरअसल दक्षिणी दिल्ली से भाजपा प्रत्याशी व 3 बार तुगलकाबाद विधानसभा सीट पर विजयी रहे रमेश बिधूड़ी को पार्टी ने दूसरी बार लोकसभा सीट के लिए मैदान में उतारा है।

पिछली बार बिधूड़ी कांग्रेस के सांसद रमेश कुमार से हार गए थे लेकिन दिल्ली में बिधूड़ी एकमात्र ऐसे प्रत्याशी थे जिनकी हार-जीत का अंतराल सबसे कम था। वह 93,219 मतों से हारे थे और उसका एक बड़ा कारण उस चुनाव में बसपा से गुर्जर प्रत्याशी कंवर सिंह तंवर का खड़ा होना था जो कि 88,120 मत ले गए थे।इस कारण भी बिधूड़ी की गुर्जर वोटों में सेंध लग गई थी।

लिया सबक, रणनीति इस बार मजबूत

पिछली भूल से सबक लेकर अब की बार बिधूड़ी पहले से मजबूत रणनीति बनाकर चुनाव मैदान में उतरे हैं। चर्चा है कि दक्षिणी दिल्ली के जाट बहुल गांवों में मदद के लिए वे महरौली के विधायक और पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट के प्रत्याशी प्रवेश साहिब सिंह वर्मा कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं। चर्चा यह भी है कि दिल्ली की सभी सीटों को जीतने का लक्ष्य बनाकर चल रही भाजपा के शीर्ष नेताओं का फरमान भी है कि ये लोग एक-दूसरे को पूरी मदद करें ताकि निश्चित ही जीत हासिल हो।  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You