कोर्ट: खुद कमाने में सक्षम तो गुजारा भत्ता नहीं

  • कोर्ट: खुद कमाने में सक्षम तो गुजारा भत्ता नहीं
You Are HereNational
Tuesday, March 25, 2014-3:03 PM

नई दिल्ली : जब अपने जीवन को चलाने लायक पैसा खुद कमा सकती है तो फिर उसे गुजारे भत्ते की क्या जरूरत है। यह टिप्पणी करते हुए दिल्ली की एक अदालत ने महिला को गुजारा भत्ता देने से इंकार कर दिया है। अदालत ने कहा कि महिला काम करने लायक है और वह शादी से पहले भी नौकरी करती थी। ऐसे में अपने पति पर निर्भर नहीं है।अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश शुक्ला भारद्वाज ने कहा कि दम्पति का कोई बच्चा नहीं है। महिला उतनी ही स्वंतत्र है, जितना की उसका पति, ऐसे में दोनों काम कर सकते हैं।

इसी के साथ महिला की उस अपील को खारिज कर दिया है, जो उसने दंडाधिकारी कोर्ट के आदेश के खिलाफ दायर की थी। दंडाधिकारी कोर्ट ने भी इसी आधार पर महिला को राहत देने से इंकार कर दिया था। अदालत ने उच्च न्यायालय के एक फैसले का हवाला देते हुए कहा कि जब पति-पत्नी ने एक जैसी शिक्षा प्राप्त कर रखी है तो वह दोनों अपने जीने लायक पैसे कमा सकते हैं।महिला ने इस मामले में अर्जी दायर कर अपने पति से गुजारा भत्ता दिलाए जाने की मांग की थी।

महिला का कहना था कि वह अपने पति पर निर्भर है, इसलिए उसे गुजारा भत्ता दिलाया जाए, वहीं उसके पति ने दलील दी थी कि उसकी पत्नी शादी से पहले नौकरी करती थी, ऐसे में वह खुद के लिए पैसा कमा सकती है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You