रामदेव को चुनाव आयोग का नोटिस

  • रामदेव को चुनाव आयोग का नोटिस
You Are HereNational
Wednesday, March 26, 2014-2:54 PM

नई दिल्ली : रामलीला मैदान में योग महोत्सव के दौरान परिवर्तन के लिए वोट करें, देश को बचाने के लिए वोट करने की अपील करना बाबा रामदेव को भारी पड़ गया है। चुनाव आयोग ने बाबा रामदेव समेत महोत्सव के आयोजकों के खिलाफ भी आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया है। चुनाव आयोग के उत्तरी जिला मैजिस्टे्रट ने बाबा रामदेव और आयोजकों से एक सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है।

गौरतलब है रविवार को रामलीला मैदान के मंच से बाबा रामदेव हजारों की संख्या में लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। मंच पर भाजपा के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी समेत कई बड़े नेता मौजूद थे। इस दौरान बाबा रामदेव ने मंच से कहा कि 2014 का धर्मयुद्ध सामने है, देश को बचाने के लिए वोट करें, परिवर्तन के लिए वोट करें। कार्यक्रम की वीडियो रिकार्डिंग जांचने के बाद चुनाव आयोग ने माना कि बाबा का भाषण राजनीति से प्रेरित है।

गौरतलब है चुनाव आयोग द्वारा आचार संहिता के दौरान हर धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रम की रिकार्डिंग देखी जा रही है। सूत्रों के मुताबिक इसी कार्यक्रम में मौजूद नरेंद्र मोदी के भाषण की रिकार्डिंग  की जांच  की जा रही है, अगर मोदी के भाषण में कहीं भी आचार संहिता का उल्लंघन पाया जाता है तो उन्हें भी नोटिस जारी किया जाएगा। 

इस मामले में दिल्ली के मुख्य चुनाव आयुक्त विजय देव ने बताया कि चांदनी चौके में हुए योग महोत्सव में बाबा रामदेव द्वारा दिए गए भाषण में पार्टी विशेष के खिलाफ बाते कही गई हैं, जिसको देखते हुए उत्तरी जिला मैजिस्ट्रेट ने उन्हें नोटिस जारी किया है। चुनाव आयोग ने बाबा रामदेव से एक सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है।  

 
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You