‘गंदा खून’ बयान को राजनीति से जोडऩा अनुपयुक्त: सोरेन

  • ‘गंदा खून’ बयान को राजनीति से जोडऩा अनुपयुक्त: सोरेन
You Are HereBihar
Wednesday, March 26, 2014-6:23 PM

जमशेदपुर: अपनी पार्टी के विधायकों के दूसरे दलों में जाने को लेकर ‘‘गंदा खून’’ बयान देने के एक दिन बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज दावा किया कि तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया और मीडिया में इसे अनुपयुक्त तरीके से दिखाया गया और उनकी एक  मात्र मंशा रक्तदान को बढ़ावा देने को लेकर था। मुख्यमंत्री ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राजनीति के क्षेत्र में उन्होंने हमेशा मर्यादा का पालन किया है और दूसरों के प्रति कभी भी अनादर नहीं दिखाया और उनके बयान को राजनीति से जोडऩा अनुचित है।


सोरेन ने कहा, ‘‘मैंने आज अखबारों में देखा कि गलतफहमी के कारण मेरे बयान को गलत तरीके से प्रकाशित किया गया।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि कल का बयान रक्तदान को बढ़ावा देने के परिप्रेक्ष्य में दिया गया था। उन्होंने दावा किया कि उनके कहने का मतलब है कि रक्तदान करने वाले व्यक्ति को परेशान करने की जरूरत नहीं है क्योंकि रक्तदान के बाद शरीर में नया खून बनेगा। जेएमएम के विधायक विद्युत बारन महतो के भाजपा में शामिल होकर जमशेदपुर संसदीय क्षेत्र से चुनाव लडऩे के बारे में पूछने पर सोरेन ने कल कहा था कि अच्छा है कि गंदा खून बाहर निकले ताकि नये रक्त का संचार हो सके।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You