विकलांग मतदाताओं को पोलिंग बूथ तक पहुंचाने के लिए चुनाव आयोग ने कमर कसी

  • विकलांग मतदाताओं को पोलिंग बूथ तक पहुंचाने के लिए चुनाव आयोग ने कमर कसी
You Are HereNcr
Friday, March 28, 2014-8:42 PM
नई दिल्ली : विकलांग मतदाताओं को पोलिंग बूथ तक पहुंचाने के लिए चुनाव आयोग ने कमर कस ली है। इसके लिए चंडीगढ़ और कानपुर से विशेष व्हील चेयर मंगाए गए हैं। जिन्हें दिल्ली के सभी पोलिंग स्टेशनों में वोटिंग के दौरान उपलब्ध कराया जाएगा। सूत्रों की मानें तो चुनाव आयोग के पास अभी तक सिर्फ 600 व्हील चेयर हैं, जोकि दिल्ली चुनावों में कम पड़ सकती हैं। इसके लिए दिल्ली चुनाव आयोग ने बाकी राज्यों की सरकारों और चुनाव आयोग से अलग से व्हील चेयर की मांग की है। जल्द ही दूसरे राज्यों की व्हील चेयर दिल्ली आ जाएंगी। 
 
आगामी 10 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनावों में मतदाताओं को ज्यादा से ज्यादा वोट करने के लिये प्रोत्साहित करने के लिये पुरजोर प्रयास किया जा रहा है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की ओर से विकलांग वोटरों की असुविधा को दूर करने के लिये विशेष इंतजाम किये जा रहे हैं। सीईओ आफिस ने विकलांग वोटरों का जहां अलग से डाटाबेस तैयार करने की रणनीति तैयार की है। साथ ही इनके लिये सभी करीब 2700 बिल्ंिडग में स्थित पोलिंग स्टेशनों में वोटिंग के दौरान व्हील चेयर मुहैया कराने का इंतजाम किया है। यह व्हील चेयर उत्तर प्रदेश के कानपुर व संघीय क्षेत्र चंडीगढ़ से भी दिल्ली लाई जाएंगी।
 
आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि सीईओ आफिस के पास अब तक सिर्फ 600 व्हील चेयर का ही इंतजाम था। लेकिन इसकी कई गुणा ज्यादा जरूरत महसूस की जा रही थी। दिल्ली की सात लोकसभा सीटों के लिये होने वाले चुनाव को 2700 बिल्ंिडग में बनाये 11000 से ज्यादा पोलिंग स्टेशन में करीब 2700 व्हील चेयर मुहैया कराने का इंतजाम किया है। सीईओ ऑफिस का प्रयास है कि पोलिंग एरिया में एक व्हील चेयर होनी चाहिए।
 
इस बाबत दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय देव का कहना है कि विकलांग वोटरों को वोटिंग कराने के लिये सुविधा मुहैया कराने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। कार्यालय ने भारत के निर्वाचन आयोग के सहयोग से केन्द्रीय मंत्रालय के प्रयासों से कई राज्यों के शहरों से व्हील चेयरों का इंतजाम किया जा रहा है। 
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You