एंबुलेंस न मिली तो सड़क पर ही दिया बच्चे को जन्म

  • एंबुलेंस न मिली तो सड़क पर ही दिया बच्चे को जन्म
You Are HereNational
Sunday, March 30, 2014-11:42 AM

छतरपुर: जिले के घुवारा कस्बे में उस वक्त एक अजीब स्थिति बन गई जब एक दलित महिला ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की ओर पैदल जाते हुए सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया और स्थानीय महिलाओं ने प्रसव में उसकी मदद की। प्राप्त जानकारी के अनुसार कुड़ेला निवासी वर्षा (26) को गांव में कल दोपहर को प्रसव पीड़ा हुई और उसके पति लोकमन चढ़ार ने जननी एक्सप्रेस और 108 एम्बुलेंस के लिए संपर्क भी किया, लेकिन दोनों ही सुविधा नहीं मिल सकी।

लोकमन ने अपनी पत्नी के सड़क पर हुए प्रसव के बाद संवाददाताओं के पूछने पर बताया कि प्रसव पीड़ा बढऩे पर वह पत्नी को पैदल ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घुवारा की ओर लेकर चल दिया। वह और उसकी पत्नी घुवारा में हायर सेकेण्ड्री स्कूल के पास तक ही पहुंचे थे कि वर्षा ने सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया, तभी वहां से गुजर रही स्थानीय महिलाओं ने इसमें मदद की। इसकी खबर लगते ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घुवारा के प्रभारी डॉ. वैभव जैन अन्य स्टाफ के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे और जच्चा-बच्चा को स्वास्थ्य केन्द्र लेकर आए। स्वास्थ्य केन्द्र में सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने के बाद जच्चा-बच्चा दोनों ही अब स्वस्थ हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You