धूमल को संविधान का सम्मान करना चाहिए: वीरभद्र

  • धूमल को संविधान का सम्मान करना चाहिए: वीरभद्र
You Are HereShimla
Monday, March 31, 2014-11:47 AM

शिमला: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री पीके धूमल की उस कथित टिप्पणी के लिए आलोचना की जिसमें उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद राज्यों को रास्ता दिखाया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता को इस तरह के गैरजिम्मेदाराना बयानों से बचना चाहिए। 

मंडी निर्वाचन क्षेत्र में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा, ‘‘राज्य सरकारें संविधान के हिसाब से चलती हैं और धूमल जो खुद राज्य के दो बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं उन्हें ऐसे गैरजिम्मेदाराना बयानों से बचना चाहिए और संविधान का सम्मान करना चाहिए।’’  कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा गुजरात में विकास का ‘घमंड’ करती है लेकिन हकीकत में हिमाचल प्रदेश विकास के मामले में गुजरात से आगे है क्योंकि सभी गांवों में बिजली है, पेयजल की आपूर्ति हो रही है और सड़क से जुड़े हुए हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You