‘गुजरात मॉडल’ की नहीं, ‘बिहार मॉडल’ की जरूरत: राहुल

  • ‘गुजरात मॉडल’ की नहीं, ‘बिहार मॉडल’ की जरूरत: राहुल
You Are HereNational
Tuesday, April 01, 2014-10:34 PM

औरंगाबाद: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां मंगलवार को कहा कि बिहार राज्य के लिए बिहार मॉडल की जरूरत है न कि गुजरात मॉडल की। उन्होंने दावा किया कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के गुजरात मॉडल का गुब्बारा भी ‘इंडिया शाइनिंग’ की तरह फूट जाएगा।

बिहार के औरंगाबाद में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल ने राजग के साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी जमकर हमला बोला। अपने तय समय से करीब दो घंटे देर से पहुंचे राहुल ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) अगले पांच वर्षों में 10 करोड़ बेरोजगार युवकों को रोजगार देने की योजना बनाई है।

उन्होंने कहा कि बिहार को ‘बिहार मॉडल’ की जरूरत है, ‘गुजरात मॉडल’ की नहीं। बिहार में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, बस जरूरत है यहां के लोगों को शक्ति देने की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अब जब वे भाजपा से अलग हो गए तो कई सवाल उठा रहे हैं, लेकिन जब गुजरात में दंगे हो रहे थे तब वे केंद्र में मंत्री थे। उस समय वे क्यों नहीं सवाल उठाए?

राहुल ने कहा कि नीतीश सरकार में विकास की कई बातें हो चुकी हैं परंतु क्या एक भी बेरोजगार युवक को रोजगार मिल सका? उन्होंने बिहार में भ्रष्टाचार की चर्चा करते हुए कहा कि यहां के अमीर लोगों के नाम गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल) की सूची में होता है, जबकि गरीबों का नाम गरीबी रेखा से ऊपर (एपीएल) की सूची में होता है।

उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि कांग्रेस गरीबों को अधिकार दिलाने के लिए कृतसंकल्प है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘भोजन का अधिकार हमने दिया। भाजपा की जहां सरकार है, उन्हें वहां भ्रष्टाचार नहीं दिखता परंतु जहां कांग्रेस की सरकार है वहां भ्रष्टाचार दिखता है।’’

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You