नीतीश कटारा मर्डर केस: तीनों दोषियों की सजा बरकरार

You Are HereNational
Wednesday, April 02, 2014-1:51 PM

नई दिल्ली: दिल्ली के नीतीश कटारा हत्याकांड मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने दोषियों की उम्रकैद की सजा बरकरार रखी है। हाईकोर्ट ने कहा कि कटारा की हत्या झूठी शान के लिए हत्या का मामला है। कोर्ट 25 अप्रैल को सजा की मात्रा से संबंधित जिरह पर सुनवाई करेगा। वही, नीतीश की मां नीलम कटारा का कहना है कि वह हाईकोर्ट के फैसले से खुश है।

इस मामले में निचली अदालत ने विकास यादव, विशाल यादव और सुखदेव पहलवान को पहले ही दोषी करार दिया है। लेकिन दोषियों ने अदालत के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट का का दरवाजा खटखटाया था। नीतीश की मां नीलम कटारा ने हाईकोर्ट से उम्रकैद को फांसी में तब्दील करने की मांग की है।

गौरतलब है कि नीतीश कटारा(24) की 12 साल पहले ऑनर किलिंग की वजह से हत्या हुई थी। नीतीश यूपी के दबंग नेता डीपी यादव की बेटी बारती यादव से प्यार करता था। इसलिए 17 फरवरी 2002 को डीपी यादव के बेटों विकास यादव, विशाल यादव और सुखदेव पहलवान ने मिलकर उसकी हत्या कर दी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You