झीरम घाटी हमले के आरोपी न्यायिक हिरासत में भेजे गए

  • झीरम घाटी हमले के आरोपी न्यायिक हिरासत में भेजे गए
You Are HereNational
Thursday, April 03, 2014-10:19 AM
बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले के झीरम घाटी हमले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को एक महिला सहित चार संदिग्ध नक्सलियों को रिमांड में लेने के लिए बिलासपुर के जिला एवं सत्र न्यायाधीश के विशेष न्यायालय में पेश किया। एनआईए की विशेष न्यायालय ने एक महिला सहित दो की रिमांड दे दी है जबकि दो अन्य को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।  
 
सरकारी अभियोजक रमेश चन्द्र पाठक और रिमांड एडवोकेट राधा रजक ने बताया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के जांच अधिकारी पी. संजय के दल ने आज चार संदिग्ध नक्सलियों को जिला एवं सत्र न्यायालय में पेश किया। राज्य में 25 मई को बस्तर जिले के झीरम घाटी में कांग्रेस की परिवर्तन रैली के काफिले में हुए नक्सली हमले की जांच मामले की सुनवाई के लिए एनआईए के विशेष न्यायालय को बिलासपुर में स्थापित किया गया है। 
 
पाठक ने बताया कि एनआईए ने जांच के दौरान बीजापुर जिले से ज्योति उर्फ पोर्णिमा मोडियाम और तोंगपाल से बैजमा सत्रा, आयता मरकाम और मुक्का मंडावी को हिरासत में लिया था। इन चारों की झीरम घाटी हमले के पहले भी नक्सली गतिविधियों में संलिप्तता पाई गई थी। मामले की गम्भीरता को देखते हुए एनआईए की विशेष अदालत में न्यायाधीश महादेव कातुलकर ने ज्योति और बैजमा को पूछताछ के लिए एनआईए को तीन दिन के रिमांड पर देने की अनुमति दे दी है। जबकि दो अन्य, आयता और मुक्का को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। 

 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You