‘कांग्रेस ने जनता का भावनात्मक शोषण किया’

  • ‘कांग्रेस ने जनता का भावनात्मक शोषण किया’
You Are HereNational
Thursday, April 03, 2014-10:29 AM

उज्जैन: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष वैंकेया नायडू ने आज कहा कि आजादी के साढे छह दशकों में कांग्रेस ने नारों और घोषणाएं परोसकर जनता का भावनात्मक  शोषण किया है। जनता ने कांग्रेस को कई बार मौका दिया लेकिन कांग्रेस ने जनता के साथ हमेशा धोखा किया। नायडू यहां पार्टी के संसदीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 1971 से लगातार गरीबी हटाओं के नारे लगाए गए जो आज सोनिया गांधी और राहुल जी दोहरा रहे है, लेकिन गरीब की आंख से आंसू पोंछने के लिए कोई ठोस कदम कांग्रेस ने नहीं उठाया। 

उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों में जहां गरीबी उन्मूलन के लिए रचनात्मक कार्य हुए है और गरीबी हटाई गई है, वहीं कांग्रेस ने अपने नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को माध्यम बनाकर विकास में अवरोध उत्पन्न करने का भरसक षडयंत्र किया है। उन्होनें जन-जन से आग्रह किया कि वे कांग्रेस की निष्क्रियता और संवेदनहीनता के कारण उसे माकूल सजा दें और सत्ता से उखाड फेंके। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव थावरचंद गेहलोत और सांसद डा. सत्यनारायण जटिया ने भी संबोधित किया और जन-जन से आग्रह किया कि वह भाजपा सरकार के 10 वर्षों की उपलब्धियों की तुलना कांग्रेस शासन के 50 वर्षों से कर जनता को हकीकत बताएं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You