अमित शाह ने ‘बदला लेने और इज्जत बचाने’ का दिया भड़काऊ भाषण

  • अमित शाह ने ‘बदला लेने और इज्जत बचाने’ का दिया भड़काऊ भाषण
You Are HereNational
Saturday, April 05, 2014-5:20 PM

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के करीबी एवं पार्टी के उत्तर प्रदेश के चुनाव प्रभारी अमित शाह राज्य में सोमवार को संसदीय चुनाव के मतदान से पहले अपने एक कथित भड़काऊ बयान को लेकर विवादो के घेरे में आ गये हैं।

शाह ने विभिन्न समुदायों के नेताओं से बातचीत में दो दिन पहले कहा था कि मौजूदा चुनाव मुजफ्फनगर में पिछले वर्ष हुई हिंसा का बदला लेने का मौका है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश खासकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में यह चुनाव सम्मान के लिए है। यह अन्याय करने वालों को सबक सिखाने का चुनाव है।

कांग्रेस और उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ समाजवादी पार्टी ने शाह के बयान की कड़ी निन्दा की है। कांग्रेस ने शाह पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चुनाव सभाओं में लोगों पर जाति और धर्म के नाम पर बदला लेने के लिए भड़काने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग तथा उत्तर प्रदेश सरकार से उनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने और उनके कहीं भी चुनाव प्रचार करने पर रोक लगाने की मांग की है।

शाह ने गुज्जर, राजपूत और दलित नेताओं से मुलाकात में कहा कि एक व्यक्ति भूखा-प्यासा और बिना सोए भी रह सकता है लेकिन यदि उसका अपमान हुआ हो तो वह जीवित नहीं रह सकता। अपमान का बदला लिया जाना चाहिए। गुजरात के पूर्व गृह मंत्री शाह ने एक अन्य बैठक में कहा, हमारे साथ दूसरी Ÿोणी के नागरिकों की तरह बर्ताव किया गया। मुगलों के समय में तलवार से बदला लिया जाता था। अब आपको बटन दबाना है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You