...जब कोर्ट ने मृत व्यक्ति को भेजा नोटिस

  • ...जब कोर्ट ने मृत व्यक्ति को भेजा नोटिस
You Are HereNational
Saturday, April 05, 2014-6:37 PM

ओडिशा: स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के अभियान ने ओडिशा के केन्द्रापाड़ा जिले में उस वक्त अजीबो-गरीब स्थिति पैदा कर दी जब भारतीय दंड संहिता की धारा 107 के तहत नोटिस भेज कर एक मृत व्यक्ति को लिखित शपथ देने को कहा गया कि वह अपने इलाके में कानून-व्यवस्था भंग नहीं करेगा। बनांबर मलिक की मौत दो साल पहले एक सड़क हादसे में हो गई थी।

उसके परिवार को तब हैरत हुई जब उन्हें भारतीय दंड संहिता की धारा 107 के तहत एक नोटिस जिसमें मलिक को कार्यकारी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश होने और हलफनामा देने को कहा गया था।  उसके परिवार के सदस्यों ने बताया कि एक छोटे से मामले मेंं मलिक के खिलाफ अदालती कार्यवाही चल रही थी और स्थानीय पुलिस थाने की रिपोर्ट के आधार पर नोटिस भेजने की यह कार्यवाही हुई।   गौरतलब है कि 70-75 और 80-85 साल के लोगों को भी नहीं बख्शा गया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You