लिम्का बुक में दर्ज हुआ छत्तीसगढ़ का सामूहिक विवाह

  • लिम्का बुक में दर्ज हुआ छत्तीसगढ़ का सामूहिक विवाह
You Are HereChhattisgarh
Sunday, April 06, 2014-9:53 AM

रायपुर: छत्तीसगढ़ सरकार की मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत राजधानी रायपुर में आयोजित विशाल सामूहिक विवाह समारोह को एक नया कीर्तिमान मानकर लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकाड्र्स में दर्ज कर लिया गया है। इस आशय का प्रमाणपत्र लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकाड्र्स की ओर से राज्य सरकार को भेजा गया है। मंत्रालयी सूत्रों ने बताया कि लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकाड्र्स ने इस योजना में तीस हजार लोगों की भागीदारी का विशेष रूप से उल्लेख किया है।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस उपलब्धि के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग और योजना से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं, सेवाभावी नागरिकों व समाज सेवी संस्थाओं सहित सभी सहयोगी अधिकारियों-कर्मचारियों को बधाई दी है। महिला और बाल विकास विभाग द्वारा यह सामूहिक विवाह समारोह 31 जनवरी, 2013 को राजधानी रायपुर के शासकीय विज्ञान महाविद्यालय के मैदान में आयोजित किया गया था। इसमें 2080 जोड़ों के विवाह हुए थे।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार की यह योजना वर्ष 2005 से लगातार चल रही है। इसके तहत राज्य शासन द्वारा जिला प्रशासन और समाजसेवी संस्थाओं व सामाजिक कार्यकर्ताओं के सहयोग से सामूहिक विवाह समारोह आयोजित किए जाते हैं। इनमें विवाह योग्य बेटियों की शादी उनके अपने-अपने धार्मिक और सामाजिक रीति-रिवाजों के अनुसार एक ही परिसर में होते हैं। इस योजना में अब तक 56,000 से ज्यादा बेटियों का विवाह हो चुका है। प्रत्येक विवाह में राज्य शासन की ओर से 15 हजार रुपये की सहायता दी जाती है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You