BJP ने जारी किया घोषणापत्र, राम मंदिर मुद्दा भी इसमें शामिल

You Are HereNational
Monday, April 07, 2014-6:19 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2014 के लिए भाजपा ने आज अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और घोषणापत्र समिति के अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी ने घोषणापत्र जारी किया इसमें इकनॉमी और सभी के लिए विकास पर ध्यान केंद्रित किया गया है। भाजाप ने इस घोषणापत्र में एक नया नारा दिया है ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ और ‘सबका साथ, सबका विकास’। गौरतलब है कि आज ही चुनाव 2014 के पहले चरण का मतदान भी किया जा रहा है।

 

जोशी ने मोदी, आडवाणी और राजनाथ की मौजूदगी में कहा कि घोषणापत्र में न्यायिक, चुनावी और पुलिस सुधारों पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है। जो मुद्दे देश को परेशान कर रहे हैं उनमें महंगाई, रोजगार, स्वरोजगार, भ्रष्टाचार और काला धन के मुद्दे हैं। जोशी ने कहा कि भाजपा सरकार निवेशकों को आकर्षित करने के लिए कर प्रणाली में सुधार करेगी। कर आतंक का खात्मा होगा और लोगों की परेशानी कम होगी।

घोषणापत्र के बारे में ये बोले जोशी
-हमने घोषणापत्र के लिए 17 सदस्यीय समिति बनाई. वेबसाइट शुरू किए गए। हमें करीब एक लाख सुझाव केवल ग्रामीण इलाकों से आए।
-हमें सुझाव अमेरिका में रह रहे भारतीयों से भी सुझाव मिले। हमने स्थानीय संस्थानों से विचार किया
-हमने शिक्षकों, किसानों, महिलाओं, विकलांगों और बच्चों से बातें कीं।
-हमने कारीगरों, मजदूरों और उनके प्रतिनिधियों से भी बातें कीं।
-महंगाई पर नियंत्रण करना होगा। अल्पसंख्यकों को शिक्षा और उद्योग में अधिक अवसरों की आवश्यकता।
-बहु ब्रांड खुदरा क्षेत्र को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में एफडीआई का स्वागत

घोषणापत्र के मुख्य बिंदु

-फ्रेट एवं औद्योगिक कॉरिडोर विकसित किए जाएंगे। तटीय क्षेत्र नेटवर्क का विकास ‘सागर माला’ परियोजना के जरिए किया जाएगा।
- घोषणापत्र में एक भारत और श्रेष्ठ भारत का विजन है।
- महंगाई, रोजगार, स्वरोजगार, भ्रष्टाचार, काला धन पर खास प्रावधान।
- शिथिल नीतियों से निपटने के प्रावधान।
- ई-गवर्नेंस और सरकार के शासन प्रणाली में पारदर्शिता.
- इसमें टीम इंडिया का विचार रखा गया है। सारे राज्य और उनके मुख्यमंत्रियों को इससे जोड़ा जाएगा। सेंटर स्टेट रिलेशन पर जोर।
- प्रशासन, न्यायपालिका, मुकदमों का निपटारा जल्दी हो, कोर्ट के बाहर समझौता हो सके इसकी व्यवस्था हो। लोक अदालतें हों। न्यायाधीशों की नियुक्ति के लिए विशेष आयोग
-वक्फ की जमीनों से अनाधिकृत कब्जा हटाया जाएगा
-सौ नए शहर बसाए जाएंगे
-जहां जरूरत होगी वहां नदियों को जोड़ा जाएगा
-सभी सार्वजनिक स्थानों पर वाई फाई नेटवर्क
-वरिष्ठ नागरिकों को करों में और अधिक छूट

घोषणापत्र में राम मंदिर मुद्दा
विवादास्पद राम मंदिर मुद्दे को भी भाजपा ने अपने घोषणापत्र में शामिल कर उन अटकलों को विराम लगा दिया कि इस मसले को चुनाव से अलग रखा जाएगा। पार्टी ने आज यहां जारी अपने घोषणापत्र में कहा है कि उसकी सरकार बनने पर अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए संविधान के तहत सभी संभावनाओं का पता लगाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पहले केन्द्र में भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने अपने एजेंडे से इस मुद्दे को बाहर रखा था। भाजपा ने अपने दो अन्य विवादास्पद मुद्दों कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त करने तथा सबके लिए समान नागरिक संहिता बनाने को एक दम से छोड़ा नहीं है बल्कि इन्हें थोडा अलग रूप दे दिया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You