अयोध्या मामले में अदालत के फैसले के अध्ययन के बाद प्रतिक्रिया देंगे : भाजपा

  • अयोध्या मामले में अदालत के फैसले के अध्ययन के बाद प्रतिक्रिया देंगे : भाजपा
You Are HereNational
Wednesday, April 19, 2017-4:55 PM

नई दिल्ली: भाजपा ने कहा कि पार्टी विवादास्पद बाबरी मस्जिद मामले में अपने कुछ शीर्ष नेताआें के खिलाफ आपराधिक साजिश का मामला चलाये जाने के उच्चतम न्यायालय के फैसले के ब्यौरे का अध्ययन कर रही है। वरिष्ठ नेता एवं विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जोर दिया कि पार्टी लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती जैसे वरिष्ठ नेताआें का सम्मान करती है। इस बारे में हम अदालत के फैसले के ब्यौरे का अध्ययन करेंगे। उच्चतम न्यायालय ने भाजपा के शीर्ष नेताआें के खिलाफ लगे आपराधिक साजिश के आरोपों को बहाल करने की सीबीआई की याचिका को आज स्वीकार कर लिया है, जिससे वर्ष 1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में इन्हें अदालती कार्यवाही का सामना करना पड़ेगा।

भाजपा प्रवक्ता विजय सोनकर शास्त्री ने कहा कि शीर्ष अदालत ने कुछ फैसला सुनाया है और पार्टी इसका अध्ययन करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी तकनीकी पहलुआें पर विचार करेगी और फिर हम इस बारे में कुछ कह सकते हैं। इस मामले में नैतिकता के आधार पर उमा भारती एवं अन्य भाजपा नेताआें के पद छोडऩे की विपक्ष की मांग के बारे में पूछे जाने पर एक अन्य प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि यह कोई नया मामला नहीं है। मामला अदालत में है। अब किसी के उपर आरोप लगने से कोई दोषी नहीं हो जाता है। कानूनी पक्ष यही है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You